नगरी, जेएनएन। धौलाधार नेचर पार्क गोपालपुर में प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी विश्‍व वन्य प्राणी दिवस मनाया गया। विश्‍व वन्यजीव दिवस 3 मार्च को मनाया जाता है ताकि दुनिया की वनस्पतियों और जीवों को बचाया जा सके और उनके बारे में जागरूकता बढ़ाई जा सके।

वन में रहने वाले वन्यजीव प्रजातियों, पारिस्थितिकी तंत्र सेवाओं और लोगों के बीच एक सहजीवी संबंध मौजूद है। विशेष रूप से स्वदेशी लोग जो वर्तमान में लगभग 28 प्रतिशत वन भूमि का प्रबंधन करते हैं, जिससे विश्व वन्यजीव दिवस का लक्ष्य प्रासंगिक और महत्वपूर्ण हो जाता है।

विश्व वन्यजीव दिवस 2021 का विषय वन और आजीविका: सतत लोग और ग्रह ’है। संयुक्त राष्ट्र का उद्देश्य कई समुदायों, विशेष रूप से स्वदेशी और स्थानीय समुदायों को वनों की आजीविका देने के महत्व पर प्रकाश डालना है। इस उपलक्ष पर सभी बच्चों को आज निशुल्क चिड़ियाघर में प्रवेश दिया गया। साथ ही बच्चो के लिए कुछ कार्यक्रम भी रखे गए जेसे की चित्रकला, नारा लेख आदि।

चिड़ियाघर घूमने आये सभी पर्यटकों को वन्यजीवों के महत्व के बारे में विस्तार से जानकारी दी। भाग लेने वाले पर्यटकों को स्मृति चिन्ह दिए गए।साथ ही बच्चो के लिए जलपान का भी बंदोबस्त किया गया था | इस उपलक्ष पर चिड़ियाघर प्रभारी दर्शन सिंह, सुरजीत, रीतू, संदीप कुमार, केवल क्रिशन, अंजलि देवी, मीना कुमारी  व अन्य कर्मचारी वर्ग मौजूद।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021