धर्मशाला, जेएनएन। मैक्लोडगंज स्थित दलाईलामा मंदिर के पास ड्रोन उड़ाने के मामले में मंगलवार को पुलिस ने अमेरिकी नागरिक इग्नोशियो कार्वेलाने व दल के अन्य सदस्यों से पूछताछ की। ड्रोन की जांच में पाया गया है कि उसने धौलाधार की वादियों के साथ ग्रुप की सदस्यों की वीडियो बनाया है। पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया है। कार्वेलाने अपने ग्रुप के साथ बुधवार को तिब्बती धर्मगुरु से मिलेगा।

अमेरिकी मूल का व्यक्ति इग्नोशियो कार्वेलाने 18 अक्टूबर को मैक्लोडगंज एक ग्रुप के साथ आया था। ड्रोन उड़ाने के साथ ही मैक्लोडगंज पुलिस ने उसका ड्रोन कब्जे में ले लिया। मंगलवार को आरोपित व उसके साथ साथियों से पूछताछ की गई। इसमें पता चला है कि उसने ग्रुप के सदस्यों के कहने पर ड्रोन से क्षेत्र का वीडियो बनाया था।

पहले भी उड़ा था ड्रोन

पिछले साल भी इग्नोशियो कार्वेलाने मैक्लोडगंज आ चुका है और एक-दो बार वह नोरबू हाउस से इसी तरह ड्रोन उड़ा चुका है। बताया कि जा रहा है कि पिछले साल जब इग्नोशियो कार्वेलाने यहां आकर ड्रोन उड़ा रहा था तो गुप्तचर विभाग ने इसकी सूचना मैक्लोडगंज थाना को दी थी। लेकिन जब तक थाने की टीम वहां पहुंची तो उससे पहले इग्नोशियो कार्वेलाने ने ड्रोन उतार लिया था।

कुछ संदिग्ध नहीं मिला

कांगड़ा के पुलिस अधीक्षक कांगड़ा विमुक्त रंजन ने बताया कि इग्नोशियो कार्वेलाने को शक के आधार पर हिरासत में लेते हुए उनके दस्तावेज व ड्रोन को कब्जे में लिया था। इसकी प्रारंभिक जांच में ऐसा कुछ नहीं पाया गया है। उसे छोड़ दिया गया है। 24 अक्टूबर तक इग्नोशियो कार्वेलाने दल के साथ लौट जाएगा।

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप