शिमला, जेएनएन। Dr Suggestions On Coronavirus, रिपन अस्पताल के एमएस डा. रविंद्र मोक्टा का कहना है कोरोना के दौर में डरने की नहीं सावधानी बरतने की जरूरत है। चेहरे पर मास्क और दो गज की दूरी जरूरी है। बुखार है तो डरें नहीं, सतर्कता के तौर पर पहले जांच करवाएं। अगर घर में सभी कोरोना पाजिटिव हैं तो तो अलग-अलग कमरे में रहने की जरूरत नहीं है। एक ही कमरे में मास्क लगाकर रह सकते हैं। बुखार और आक्सीजन का लेवल हर छह घंटे पर चेक करते रहें। आक्सीजन लेवल 90 से कम आता है और कोई सुधार नहीं होता है तो डाक्टर से तुरंत संपर्क करें। इसके अलावा बिना किसी लक्षण अपने आप दवा का सेवन न करें, वह अधिक खतरनाक है। बिना काम घर से बाहर न निकलें। बच्चों व बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें। बाजार में सामान खरीदते समय उचित शारीरिक दूरी रखें। समय-समय पर साबुन से हाथ धोते रहें।

सौंठ उबालकर पीने के हैं कई फायदे

ऊना। आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारी (एमडी मेडिसन) पूबोवाल, ऊना डा. अमनदीप सौंखला का कहना है सौंठ बड़ी ही गुणकारी है। इसका सही ढंग से इस्तेमाल किया जाए तो इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायता मिलती है क्योंकि सौंठ उत्तम पाचक है तथा कफ को कम करती है। तीन ग्राम सौंठ लेकर उसे 150 मिलीलीटर पानी में चाय की तरह उबालकर छानकर दिन में एक या दो बार पीएं। इसके साथ ही काली मिर्च का प्रयोग भी कोरोना काल में काफी महत्व रखता है। काली मिर्च को पीसकर खाने व हरे सलाद में डालकर खाएं। दूध व चाय में इसे कुछ मात्रा में डालकर पिया जा सकता हैं। दही खाते समय काली मिर्च का सेवन जरूर करें। इसके अलावा तुलसी चार भाग, दालचीनी दो भाग, सौंठ दो भाग, काली मिर्च एक भाग मिलकर काढ़ा बनाकर पीएं। यह काढ़ा जुकाम व खांसी में रामबाण की तरह असर दिखाता हैं। इसके अलावा दूध में देसी हल्दी मिलाकर पीने से गला व पाचन शक्ति को मजबूत करता है।

 

Edited By: Rajesh Kumar Sharma