डाडासीबा, जेएनएन। विकास खंड परागपुर के तहत पंचायत कौलपुर के एक गांव में इलाज के नाम पर धर्मांतरण का आरोप लगा है। इस पर दोनों पक्षों में काफी देर तक बहस होती रही। इस बाबत सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद हालात पर काबू पाया। क्षेत्रवासियों का आरोप है कि हर माह के दूसरे रविवार को गांव में यमुनानगर से संबंधित एक संस्था के सदस्य इलाज के नाम पर धर्मांतरण करवाते हैं।

लोगों का आरोप है कि गांव में सात वर्ष से कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। उधर आयोजकों ने आरोपों को निराधार बताया है। इस बाबत सुनीता निवासी चामुक्खा, सत्या देवी, कोमल निवासी बंगाणा, देसराज, कुलदीप व जगदीश ने बताया कि वे लोग कई वर्षों से इस आयोजन के साथ जुड़े हैं परंतु यहां धर्मांतरण नहीं किया जाता है। डीएसपी ज्वालामुखी तिलक राज शर्मा ने बताया कि प्राथमिक दृष्टि में धर्म परिवर्तन की बात सामने नहीं आई है लेकिन फिर भी मामले की जांच की जाएगी।

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप