चिंतपूर्णी, संवाद सूत्र। रविवार को कड़ाके की ठंड में भी मां चिंतपूर्णी के दरबार में काफी रौनक रही। सुबह के समय सर्द मौसम और हल्की हल्की धुंध के होते हुए भी श्रद्धालु काफी संख्या में मां के दर पहुंचना शुरू हो गए थे और दोपहर तक दर्शनों के लिए लगी कतारें पुराना बस अड्डे तक पहुंच गई थीं। अभी तक कम सुरक्षाकर्मियों के चलते दर्शन पर्ची शुरू नहीं हो पाई है, जिससे मां के दर्शन करने के लिए सीधे ही श्रद्धालु मां के दर्शनों के लिए कतारों में पहुंच रहे हैं।

शारीरिक दूरी के नियम फिर से भीड़ पडऩे के साथ ही टूटते दिखे। न तो श्रद्धालुओं में दो ग•ा की दूरी थी और कई श्रद्धालु बिना मास्क के भी घूमते रहे। मंदिर के निकासी द्वार और प्रवेश द्वार के आस पास दर्जनों भिखारी हाथ में झाड़ू लिए भीख मांगते रहे। यही हाल बा•ाारों और निकटवर्ती पार्किग स्थलों पर था। यहां भी भिक्षावृति बे$खौफ होती रही। उधर, लंबे समय बाद ङ्क्षचतपूर्णी में भीड़ उमडऩे से स्थानीय व्यवसायियों को भी फायदा हुआ।

चंचल की याद में किया भजन संध्या का

मां  ङ्क्षचतपूर्णी के दरबार में रविवार को चिंतपूर्णी सेवा समिति द्वारा भजन संध्या का आयोजन किया गया। यह आयोजन भजन सम्राट नरेंद्र चंचल की याद में किया गया। दुनिया को दिल को छू लेने वाली आवा•ा से महामाई के भजन देने वाले भजन सम्राट नरेन्द्र चचंल को उनके प्रशंसकों द्वारा भजन संध्या में उनके द्वारा गाए गए भजनों को गाकर याद किया गया। पंजाब के नूरमहल से आए इस भजन संध्या के आयोजक पंकज तकियार और ङ्क्षचतपूर्णी सेवा समिति  ने कहा कि उनको श्रद्धांजलि देने के लिए इस भजन संध्या का आयोजन किया गया

है। इस भजन संध्या में उनकी गाए गए सुंदर भजनों से समा ही बंद गया। समूचे ङ्क्षचतपूर्णी में आज पूरा माहौल भक्तिमय हो गया। बारीदार सभा के प्रधान रविन्द्र ङ्क्षछदा, पुजारी दिवाकर कालिया महावीर कालिया , विनोद कालिया ओर अन्य भक्तों द्वारा उन्हें पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई। अमृतसर से आए कलाकार रेखा शर्मा और कुमार मुकेश ने भजन सम्राट श्री नरेन्द्र चंचल के गाए हुए भजन गाकर इस आयोजन का समा बांध दिया।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021