चंबा, जेएनएन। जनजातीय क्षेत्र भरमौर की प्रीणा पंचायत में भारी बारिश के कारण पेड़ गिरने से बिजली की तारें नालें में गिर गईं, इस कारण पानी में करंट फैल गया। इस दौरान भेड़-बकरियों सहित नाले को पार कर रहा एक भेड़पालक करंट की चपेट में आने से बाल-बाल बच गया। लेकिन उसकी भेड़-बकरियां करंट की चपेट में आ गईं। शनिवार देर शाम यह हादसा पेश आया। वहीं नाले में पानी में तेज बहाव के कारण आठ बकरियां लापता हो गईं। मौके पर भेड़पालक ने भागकर जान बचाई तथा घटना की जानकारी पंचायत प्रतिनिधियों को दी। देर रात तक लोगों ने लापता पशुधन की तलाश की। लेकिन कोई पता नहीं चल पाया।

रोजाना की तरह भेड़पालक धनु राम निवासी गुवाड़ पंचायत प्रीणा अपनी बकरियों को धार में चराने के लिए गया हुआ था, जहां से वापस आते समय भारी बारिश के कारण बिजली की तारें टूट कर नाले में गिर गईं। जिस कारण नाले को पार करते हुए चार बकरियां करंट की चपेट में आ गईं। क्षेत्र में देर रात तक भारी बारिश का दौर जारी रहा। लोगों ने देर रात बिजली बोर्ड को सूचना देकर क्षेत्र में बिजली आपूर्ति को बंद करवाया। रविवार सुबह बिजली बोर्ड के कर्मचारियों ने मौके पर आकर तारों को व्यवस्थित करने का कार्य शुरू किया। उधर पंचायत प्रधान ने भी घटना की जानकारी राजस्व विभाग को दी।

देर शाम भारी बारिश होने के कारण तारें नाले में गिरी थीं। जिस कारण चार बकरियां करंट से मर गईं तथा आठ नाले में बह गई। इस बारे में राजस्व विभाग को सूचित कर दिया गया है, ताकि पीडि़त को मुआवजा मिल सके। -हेमराज, प्रीणा पंचायत प्रधान।

भारी बारिश के कारण पेड़ों की टहनियां टूटने से तारों का पूरा स्पेन टूटकर नाले में गिरा था। इस बारे में जांच की जा रही है। तारों को व्यवस्थित करके बिजली अपूर्ति को जल्द ठीक किया जाएगा।  -तेज सिंह ठाकुर, सहायक अभियंता बिजली बोर्ड राख।

Posted By: Rajesh Sharma

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस