शिमला, यादवेन्द्र शर्मा। Haridwar Kumbh Mela 2021, हिमाचल प्रदेश से उत्तराखंड के हरिद्वार में कुंभ स्नान को जाने हिमाचल के लोगों को कोरोना रिपोर्ट की जरूरत नहीं है। हालांकि शाही स्नान के लिए जाने वाले प्रदेश के लोग उलझन में हैं। यही कारण है कि जाने से पहले वहां की स्थिति और व्यवस्था को लेकर लोग 104 हेल्पलाइन पर पूछताछ कर रहे हैं। शाही स्नान की तिथियों और पर्व विशेष पर पूछताछ बढ़ जाती है।  हर दिन चार से पांच फोन कुंभ स्नान की व्यवस्था, कोरोना बंदिशों व औपचारिकताओं की जानकारी लेने के संबंध में आ रहे हैं। हरिद्वार कुंभ स्नान चौथे शाही स्नान के साथ 27 अप्रैल को समाप्त होना है।

देश के 12 राज्यों जहां कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है वहां से आने वालों को आरटी-पीसीआर रिपोर्ट नेगेटिव लाने के निर्देश उत्तराखंड सरकार ने दिए हैं। लोग हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों व निजी वाहनों से हरिद्वारजा रहे हैं।

हरिद्वार कुंभ की तिथियां

  • दूसरा शाही स्नान,12 अप्रैल, सोमवती अमावस्या
  • नव संवत्सर,13 अप्रैल, हिंदू नव वर्ष आरंभ
  • तीसरा शाही स्नान,14 अप्रैल वैसाखी मेष पूर्णिमा
  • चौथा शाही स्नान,27 अप्रैल चैत्र पूर्णिमा

निगम की हर दिन हरिद्वार जा रही 30 बसें

हरिद्वार के लिए हर दिन हिमाचल पथ परिवहन निगम की 30 बसें जा रही हैं। इसमें से 15 तो शिमला से जा रही हैं, जिनमें नौ सामान्य और छह लग्जरी हैं। शिमला से हरिद्वार के लिए सामान्य बस में 560 रुपये प्रति यात्री और लग्जरी में 1065 रुपये प्रति यात्री किराया है। सामान्य बसें सुबह 5.15, 10.30 बजे शाम 4.25, 4.45, 5.15, 5.36, 6.40, 8.40 व 10.40 बजे और लग्जरी बस सुबह 8.30,11.15 बजे रात्रि 8.00, 9.00, 9.30 व 10.30 बजे जा रही है।

जानकारी को लेकर आ रही कॉल

104 हेल्पलाइन के राज्‍य प्रमुख मनीष कैंथला का कहना है हेल्पलाइन पर इन दिनों इन दिनों 150 के करीब कॉल आ रही हैं। इनमें चार से पांच कुंभ स्नान से संबंधित हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021