शिमला, जेएनएन। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के धर्मशाला में इन्वेस्टर मीट में आने पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन्वेस्टर मीट में आ क्यों रहे हैं? यह मीट तो सरकार और निवेशकों के बीच होने वाली है। अगर नरेंद्र मोदी आ ही रहे हैं तो वह आर्थिक पैकेज दें या आर्थिक पैकेज दें, जिससे हिमाचल के निवेशकों और सरकार को लाभ मिल सके।

उन्होंने कहा जयराम सरकार अभी तक चार हजार करोड़ कर्ज ले चुकी है और ऋण लेकर चल रही सरकार को मदद पहुंचाने के लिए नरेंद्र मोदी को इस दिशा में आर्थिक पैकेज प्रदान करना चाहिए। शिमला में पत्रकार वार्ता के दौरान उन्होंने कहा महंगाई आर्थिक मंदी और सरकार की नीतियों के विरोध में कांग्रेस 6 नवंबर से 14 नवंबर तक जिला मुख्यालय में धरना प्रदर्शन करेगी और इसमें प्रदेश कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल सहित विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री सहित अन्‍य नेता मौजूद रहेंगे।

इन्वेस्टर मीट में कांग्रेस नहीं होगी शामिल

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने कहा कि इन्वेस्टर मीट में कांग्रेस के विधायक शामिल नहीं होंगे, क्योंकि इस संबंध में कांग्रेस से कोई चर्चा नहीं की गई है और न ही इस संबंध में कोई जानकारी दी गई है। केवल यह पता चला कि कांग्रेस के विधायकों के लिए होटल बुक किए गए हैं तो आखिर जब एमओयू साइन हो गए तो कांग्रेस के विधायकों ने वहां जाकर करना क्या है।

गैर हिमाचलियों को नौकरी पर प्रदर्शन

दैनिक जागरण द्वारा प्रमुखता से उठाए गए स्कूल प्रवक्ता के पदों पर गैर हिमाचलियों की भर्ती को लेकर कांग्रेस धरना प्रदर्शन करेगी। हिमाचल के बेरोजगारों से रोजगार छीन अब गैर हिमाचलियों को रोजगार देने की प्रक्रिया शुरू कर दी है जो पूरी तरह से गलत है।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस