धर्मशाला, जागरण संवाददाता। Central University Himachal, कांग्रेस ओबीसी के प्रदेश उपाध्यक्ष विक्रम चौधरी ने कहा केंद्रीय विवि परिसर के देहरा में निर्माण की घोषणा व फोरेस्ट क्लीयरेंस धर्मशाला के लिए काला दिवस है। धर्मशाला के नेताओं की कमजोर इच्छाशक्ति का ही नतीजा है कि वर्ष 2007 में केंद्रीय विवि को देने वाली यूपीए सरकार की परियोजना को आज दिन तक लटकाए रखा। यही नहीं यूपीए सरकार व सोनिया गांधी ने यह केंद्रीय विवि धर्मशाला के लिए दिया था, लेकिन उस समय भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने अपने राजनीतिक लाभ के लिए केंद्रीय विवि को धर्मशाला के साथ-साथ देहरा का नाम जोड़ दिया ताकि उनके सांसद बेटे अनुराग ठाकुर को इसका लाभ मिल सके।

यही वजह भी रही कि धर्मशाला के तत्कालीन विधायक व मंत्री किशन कपूर ने जमीन न होने का हवाला देते हुए इस परियोजना को देहरा जाने देने के लिए पूर्ण सहयोग दिया। जबकि धर्मशाला के वुद्धिजीवियों ने धर्मशाला केंद्रीय विवि को धर्मशाला में स्थापित करने के लिए आंदोलन भी किया। जिस वजह से सरकार को टऊ, चौहला, व जदरांगल में जमीन देखनी पड़ी। लेकिन धर्मशाला भाजपा नेताओं की इच्छाशक्ति की कमी व अपने राजनीतिक लाभ लेने के कारण केंद्रीय विवि की स्थापना धर्मशाला में नहीं हो सकी।

आज जब केंद्रीय नेतृत्व में बैठे अनुराग ठाकुर ने अपनी शक्ति का प्रयोग करते हुए वन क्लीयरेंस देहरा के लिए स्वीकृत करवाई तो क्या धर्मशाला के लिए यह नहीं हो सकता था। अनुराग ठाकुर भी राजनीतिक लाभ लेने के लिए दोहरे मापदंड अपना रहे हैं और धर्मशाला के नेता उसमें उनके सहयोगी बने हुए हैं।

विक्रम चौधरी ने कहा कि अनुराग ठाकुर यह भूल गए हैं कि धर्मशाला में क्रिकेट स्टेडियम के माध्यम से धर्मशाला की जनता ने उनको देश व विदेश में पहचान दिलवाने का महत्वपूर्ण कार्य किया था और उनके राजनीतिक जीवन में भी धर्मशाला का बहुत बड़ा महत्व है, लेकिन उन्होंने इस बात को नजर अंदाज करते हुए सिर्फ और सिर्फ देहरा के हितों का ही ध्यान रखा है। ऐसे में धर्मशाला और देहरा में केंद्रीय विवि झूलता रहा और इस दौरान शाहपुर क्षेत्र में केंद्रीय विवि को चलाकर शाहपुर की जनता की भावनाओं के साथ भी खिलवाड़ किया गया है। इससे साबित होता है कि भाजपा कांगड़ा विरोधी है।

अगर केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार धर्मशाला के हितों की अनदेखी करेगी तो कांग्रेस भी चुप नहीं बैठेगी। देहरा में केंद्रीय विवि को ले जाने के विरोध में धर्मशाला में उग्र प्रदर्शन किया जाएगा, जिसकी जिम्मेदारी पूरी तरह से प्रदेश सरकार, सांसद किशन कपूर व अनुराग ठाकुर की होगी।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma