धर्मशाला, जागरण संवाददाता। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा बाहरी राज्यों के श्रमिकों का प्रदेश के विकास में एक बड़ा योगदान है। कोरोना संक्रमण से पैदा हुए संकट के कारण ये लोग अपने घरों को वापस चले गए थे। लेकिन प्रदेश में हालात सामान्य होने के बाद ये श्रमिक लौट रहे हैं। अन्य राज्यों में इस समय प्रदेश की तुलना में कहीं अधिक कोरोना के मामले हैं और यही वजह भी है कि इन श्रमिकों के प्रदेश में आने के बाद कोरोना यहां पर भी बढ़ा है।

मुख्यमंत्री ने कहा लेकिन सबसे बड़ी बात यह है कि प्रदेश के विकास में अहम योगदान देने वाने इन श्रमिकों की अनदेखी सरकार नहीं कर सकती है। इसलिए जो बाहरी राज्यों से श्रमिक प्रदेश में काम करने को लेकर आ रहे हैं उनके कोरोना टेस्ट भी लिए जा रहे हैं, ताकि संक्रमण न फैले और वह स्वस्थ्य होकर वापस अपने काम पर लौट सकें। प्रदेश में विशेषकर बिहार, उत्तर प्रदेश, राजस्थान से श्रमिक काम करने लिए आते हैं और इनकी संख्या भी कहीं कम नहीं है। लेकिन सरकार द्वारा अब प्रदेश में उनके आने के लिए द्वार खोले गए हैं, लेकिन पूरी एहतियात भी बरती जा रही है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप