जेएनएन, धर्मशाला। प्रदेश में शनिवार को रोहतांग सहित चोटियों पर हिमपात और निचले क्षेत्रों में तेज हवा चलने के साथ भारी बारिश हुई। इससे प्रदेश में अधिकतम तापमान लुढ़क गया है। मंडी जिला में बारिश से भारी नुकसान हुआ है। ऊपरी क्षेत्र में बादल फटने से पंडोह के मैहनी गांव में बाढ़ आ गई। क्षेत्र में चार मार्ग बंद हो गए हैं। पंचायत घर सहित लोगों के मकानों को भी नुकसान हुआ है। तेज हवा से बीएसएनएल का टावर गिर गया, साथ ही देवदार के 20 पेड़ उखड़ गए। पंचायत घर में सोलर पैनल भी तबाह हो गए हैं। 

मौसम विभाग के अनुसार शनिवार को पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के कारण प्रदेश में धर्मशाला में सबसे अधिक 56 मिलीमीटर, मंडी के जोगेंद्रनगर में 39, मनाली में पांच मिलीमीटर बारिश हुई। शिमला सहित अन्य क्षेत्रों में भी बारिश हुई। इसके कारण अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आई है। हालांकि ऊना में अधिकतम तापमान में दो डिग्री की वृद्धि हुई है। ऊना जिला में न्यूनतम तापमान में रिकार्ड आठ डिग्री की वृद्धि हुई है और 28.6 डिग्री दर्ज किया गया है। बारिश के बावजूद अन्य जिलों में भी न्यूनतम तापमान में वृद्धि हुई है।

मौसम विभाग के अनुसार 30 मई को कुल्लू व किन्नौर में तेज हवा चलने के साथ बिजली गिरने का यलो अलर्ट जारी किया गया है। 31 मई से दो जून तक प्रदेश में तेज हवा चलने, ओलावृष्टि के साथ बिजली गिरने को लेकर यलो अलर्ट जारी किया गया है। 31 को ऊना, चंबा, कांगड़ा, कुल्लू, मंडी, शिमला व सिरमौर, जबकि पहली जून को ऊना, बिलासपुर, कांगड़ा, मंडी, शिमला, सोलन व सिरमौर के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। प्रदेश में शनिवार को सुबह धूप के खिलने के बाद मौसम ने करवट बदली और बारिश शुरू हो गई।

-------

कहां कितना रहा तापमान (डिग्री सेल्सियस)

स्थान,न्यूनतम,अधिकतम

शिमला,17.5,25.0

सुंदरनगर,21.3,34.6

भुंतर,20.0,33.6

कल्पा,10.4,24.6

धर्मशाला,18.6,30.4

ऊना,28.6,41.6

नाहन,22.7,31.8

केलंग,7.2,21.9

सोलन,19.5,33.0

Edited By: Vijay Bhushan