जागरण संवाददाता, धर्मशाला : चाइल्ड लाइन ने बुधवार को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल पलियार लंघा में कार्यक्रम आयोजित किया। इसमें बाल विवाह के खिलाफ जागरूक किया गया। इसमें चाइल्डलाइन कागड़ा की टीम सदस्य डिंपल कटोच व ललिता कुमारी ने बच्चों के अधिकार व बाल विवाह के दुष्परिणाम की जानकारी दी। उन्होंने आह्वान किया कि यदि उन्हें कहीं भी बाल विवाह होता नजर आए तो चाइल्ड लाइन टॉल-फ्री नंबर 1098 पर सूचित करें, ताकि विवाह के बंधन में बंधने बाली नाबालिग बच्ची की जिंदगी बचाई जा सके। उन्होंने बताया कि कम उम्र में बच्चों की विवाह करने पर तीन से पांच साल की सजा हो सकती है और एक लाख रुपये जुर्माना भी हो सकता है। इस दौरान चाइल्ड लाइन ने नुक्कड़ नाटक से बच्चों ने बाल विवाह जैसी कुरीति को समाप्त करने के लिए जागरूक किया। बच्चों ने संदेश दिया कि बाल विवाह एक अपराध ही नहीं बल्कि एक लड़की की जानबूझ कर जिंदगी तबाह करने का भयानक कार्य है। नाटक में अभिनय के माध्यम से बच्चों द्वारा दी गई उत्कृट प्रस्तुति को देखकर विशाल को सबसे बढि़या अभिनय करने पर प्रथम, अभिषेक को द्वितीय तथा साहिल को तृतीय पुरस्कार प्रदान किया गया। इन्हें चाइल्ड लाइन ने पुरस्कार व प्रमाणपत्र प्रदान किए। प्रधानाचार्य सर्वजीत सिंह ने कार्यक्रम की सराहना की।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran