धर्मशाला/शिमला। पच्छाद व धर्मशाला विधानसभा सीटों पर कब्जा बरकरार रखने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर 11 अक्टूबर से चुनावी ताल ठोकेंगे। उपचुनाव के लिए जयराम ठाकुर पहली चुनावी जनसभा धर्मशाला में करेंगे। चुनावी जनसभाओं का कार्यक्रम प्रस्तावित किया गया है। हालांकि अभी चुनाव प्रचार के लिए कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जाना बाकी है। भाजपा ने दोनों विधानसभा क्षेत्रों में मंत्रियों के साथ पार्टी के विधायकों व संगठन नेताओं को जिम्मेदारियां सौंप रखी हैं।

धर्मशाला व पच्छाद की सीटें भाजपा के पास थीं। लोकसभा चुनाव में इन दोनों सीटों पर भाजपा विधायक जीतकर आए थे जिस कारण उपचुनाव की नौबत आई। पच्छाद व धर्मशाला में मुख्यमंत्री चार-चार रैलियां करेंगे। जयराम ठाकुर धर्मशाला में भाजपा प्रत्याशी विशाल नैहरिया के लिए दो चुनावी जनसभाएं करेंगे। उसके बाद 15 अक्टूबर को पच्छाद क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी रीना कश्यप के समर्थन में दो स्थानों पर जनसभा को संबोधित करेंगे। पच्छाद मेंं दूसरे चरण में वह 18 अक्टूबर को दो चुनावी जनसभाएं करेंगे। वहीं, 19 अक्टूबर को धर्मशाला में दो चुनावी जनसभाएं करेंगे।

मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी

पच्छाद में उपचुनाव को लेकर मंत्रियों के साथ विधानसभा अध्यक्ष को चुनावी जिम्मेदारी सौंपी गई है। चार क्षेत्रों में इस क्षेत्र को विभाजित किया गया है। राजगढ़ क्षेत्र का दायित्व विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव ङ्क्षबदल व भाजपा नेता बलदेव तोमर को सौंपा गया है। संसदीय कार्यमंत्री सुरेश भारद्वाज को सराहां, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. राजीव सैजल को नारग और पझौता क्षेत्र की जिम्मेदारी विधानसभा में पार्टी के मुख्य सचेतक नरेंद्र बरागटा को सौंपी गई है। धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र का जिम्मा शहरी विकास मंत्री सरवीण चौधरी, उद्योग मंत्री बिक्रम ठाकुर, विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज व राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला को सौंपा गया है। उपचुनाव की घोषणा होने के बाद भाजपा ने विधायकों व संगठन नेताओं को भी मैदान में उतार दिया है।

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप