कुल्लू, मुकेश मेहरा। फेसबुक, वाट्सएप व मैसेंजर पर अगर आप कोई गलत संदेश या वीडियो भेज रहे हैं तो सावधान रहें। केंद्र सरकार आपके संदेशों पर नजर रखे हुए है। इसके लिए बाकायदा मिनीस्ट्री ऑफ होम अफेयर्स ने सोशल मीडिया कंपनियों को निगरानी रखने के आदेश दिए हैं। उसी के आधार पर अश्लीलता फैलाने के आरोप में प्रदेश भर के थानों में मामले दर्ज किए गए हैं। इसमें सात मामले कुल्लू में दर्ज हुए हैं। इन दर्ज मामलों में पोस्को एक्ट में दर्ज होने सहित बड़ी सजा व जुर्माने का प्रावधान है।

सोशल मीडिया पर बढ़ रही पोर्नोग्राफी पर कंट्रोल करने के लिए मिनीस्ट्री ऑफ होम अफेयर्स ने फेसबुक, मैसेंजर और अन्य सोशल मीडिया कंपनियों को महिलाओं व बच्चों से संबंधित अश्लील संदेशों पर नजर रखने के आदेश दिए हैं। इन्हीं आदेशों के बाद फेसबुक के अधिकारियों ने मैसेंजर के जरिए भेजे गए न्यूड पिक व वीडियो पकड़े। इसकी रिपोर्ट केंद्र सरकार को दी गई। उसी के आधार पर सात मामले कुल्लू जिला में दर्ज हुए।

सोशल मीडिया कंपनियां रख रहीं नजर

सोशल मीडिया के प्रति युवाओं में भारी क्रेज होने तथा इसमें पोर्नोग्राफी के अधिक आदान प्रदान के कारण कई घटनाएं घटित हो रही हैं। इन्हीं बातों पर लगाम कसने के लिए सोशल मीडिया कंपनियां अब ऐसे मैसेज पर नजर रख रही हैं, क्योंकि जागरूकता की कमी के कारण इससे जुड़े लोग कई बार धड़ाधड़ पोर्न फोटो व वीडियो भेजते हैं।

पुलिस चलाएगी जागरूकता अभियान

अब इसी बात से जागरूक करने के लिए स्कूल व कॉलेजों जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इसमें इन्हें मैसेंजर व वाट्सएप आदि में महिलाओं बच्चों के बारे में अश्लील फोटो या वीडियो मैसेज न भेजने के बारे में जागरूक किया जाएगा और इसमें होने वाली सजा के बारे में भी बताया जाएगा।

केंद्रीय मंत्रालय की रिपोर्ट पर हुई कार्रवाई

जाने अनजाने में किसी भी प्रकार का कोई भी पोर्नोग्राफी मेटेरियल, बच्चों या महिलाओं के संदर्भ में किसी को भी आगे न तो वाट्सएप पर, न फेसबुक न ही किसी अन्य सोशल साइट पर फॉरवर्ड करें। इन सभी मामलों में सख्त कानूनी कार्रवाई की जा रही है। केंद्रीय मंत्रालय की रिपोर्ट पर जिला में सात मामले दर्ज हुए हैं। -गौरव सिंह, एसपी कुल्लू।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस