मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पालमपुर, जेएनएन। अटल बिहारी वाजपेयी की प्रथम पुण्य तिथि पर शुक्रवार को पालमपुर में कार्यक्रम हुआ। समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी के कहने पर ही गरीबों को विश्व की सबसे बड़ी अंतोदय अन्न योजना का शुभारंभ हुआ था। उन्होंने कहा कि जब वाजपेयी प्रधानमंत्री थे, तो वह केंद्र में खाद्य आपूर्ति मंत्री थे। उन्होंने गरीबों को सस्ता अनाज दिलाने के लिए 22 हजार करोड़ रुपये की योजना बनाई थी, लेकिन वित्त मंत्री के मना करने पर यह योजना सिरे नहीं चढ़ रही थी। उन्होंने प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से चर्चा के बाद आग्रह किया तब वाजपेयी ने अपने विशेषाधिकार का उपयोग कर इस योजना को लागू करवाया था। जो आज भी चालू है तथा इसमें गरीबों को सस्ता अनाज मिल रहा है।

उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि अटल जी ने जो दिया है, उसे कार्यकर्ता संभालकर रखें। इस अवसर पर जयसिंहपुर के विधायक रविंद्र धीमान ने कहा कि वाजपेयी जैसी विभूतियों की भारत को हमेशा आवश्यकता है। क्योंकि जो राष्ट्रवाद की भावना तथा विचार अटल बिहारी वाजपेयी के समय में लोगों के मन में आया, आज वह वट वृक्ष के रूप में कार्य कर रहा है। बैजनाथ के विधायक मुलखराज प्रेमी ने कहा कि वाजपेयी जी के किए कार्य ऐतिहासिक तथा उनका योगदान देश के लिए विशेष रहा है।

जिला भाजपा अध्यक्ष विनय शर्मा ने कहा कि पालमपुर से भी अटल बिहारी वाजपेयी का विशेष नाता था। कारगिल युद्ध में भी शहीदों को सम्मान इसी सरकार ने दिया था। इस दौरान सभी कार्यकर्ताओं ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी तथा दो मिनट का मौन रखा। इस अवसर पर विधायक रङ्क्षवद्र धीमान, मुल्खराज प्रेमी, जिला अध्यक्ष विनय शर्मा, जिला महामंत्री हरिदत्त शर्मा एवं कै. श्याम लाल, घनश्याम शर्मा, प्रवीण शर्मा, मङ्क्षहद्र डढवाल, संजीव सोनी, कर्ण जम्वाल, अशोक पुरोहित, सुरिंद्र ठाकुर आदि विशेष रुप से उपस्थित थे।

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप