फतेहपुर, संवाद सूत्र। बीएमओ फतेहपुर से अभद्र व्यवहार का ऑडियो वायरल मामला थाने पहुंच गया है। बीएमओ फतेहपुर ने थाना प्रभारी के माध्यम से लिखित शिकायत एसपी कांगड़ा को दे दी है। वायरल ऑडियो में पूर्व राज्यसभा सदस्य कृपाल परमार ने राजा का तालाब क्षेत्र के एक निजी अस्पताल में बरती जा रही अव्यवस्था पर बीएमओ फतेहपुर डा. आरके मेहता को खरी-खोटी सुनाई थी। दोनों के बीच मोबाइल फोन पर हुई बातचीत का ऑडियो वायरल हुआ था। ऑडियो में बीएमओ कार्यालय को आग लगा देने की बात भी कही गई थी।

क्या है मामला

पूर्व राज्यसभा सदस्य बीएमओ से राजा का तालाब स्थित निजी अस्पताल एवं कोविड केयर सेंटर के संबंध में पूछ रहे थे। इस बीच परमार ने बीएमओ से अभद्र व्यवहार कर डाला था। उनका कहना था कि अस्पताल में कोविड व सामान्य मरीजों के लिए अलग-अलग स्टाफ की तैनाती नहीं की गई है। परमार का यह भी कहना था कि आप (बीएमओ) क्या व्यवस्था देख रहे हैं। इस पर बीएमओ का तर्क था कि उन्होंने एसडीएम के साथ जाकर अस्पताल का दौरा किया है। अन्य मरीजों के लिए लिफ्ट की सुविधा है, जबकि कोविड मरीजों के लिए रैंप की व्यवस्था की है। उनके तर्क पर कृपाल परमार भड़क उठे थे और कहा था कि व्यवस्था सुधार लो, नहीं तो लोग आपके कार्यालय व अस्पताल को आग लगा देंगे।

क्‍या कहते हैं अधिकारी

  • लिखित शिकायत पत्र एसपी कांगड़ा के नाम पर थाना फतेहपुर में दिया है। अब पुलिस प्रशासन कार्रवाई करेगा। -डा. आरके मेहता, बीएमओ फतेहपुर।
  • बीएमओ फतेहपुर ने शिकायत पत्र थाने में दिया है और इस पर कार्रवाई की जाएगी। -सुरेश शर्मा, थाना प्रभारी फतेहपुर