कुल्‍लू, संवाद सहयोगी। एयर इंडिया की सहायक कंपनी एलायंस एयर का एटीआर 42 विमान कुल्लू के भुंतर हवाई अड्डे पर उतर गया है। विमान का स्वागत वाटर सैल्यूट (पानी की बौछारों) से किया गया। हालांकि पहले यह विमान 15 अगस्त को भुंतर एयरपोर्ट पर पहुंचना था। मौसम के खराब होने के विमान नहीं आ पाया। मंगलवार को सफलता पूर्वक विमान कुल्लू मनाली एयरपोर्ट भुंतर में पहुंचा है। इस सेवा के शुरू होने से अब घाटी में पर्यटन कारोबार को पंख लगेंगे। दिल्ली से भुंतर वाया चंडीगढ़ के बीच एटीआर 42 सीटर वीमान सेवा के शुरू होने से एक नई उम्मीद जगी है। पहले दिन जहाज में 32 यात्री भुंतर एयरपोर्ट पहुंचे और 17 यात्री भुंतर से वापिस गए।

अब आम जनमानस सहित पर्यटकों को छोटे जहाज के आने से किराए में राहत मिलेगी और यात्रियों की संख्या में भी इजाफा होगा। दिल्ली से भुंतर वाया चंडरगढ़ के लिए अभी दो उड़ाने होगी। अभी तक इसका शेड्यूल तय नहीं हुआ है। अभी तक दिल्ली से भुंतर के लिए एलायंस एयर का एकमात्र 72 सीटर जहाज आ रहा था। इसमें 72 सीटें होने के बावजूद भी पहाड़ियों के बीच तथा ब्यास नदी के किनारे बने भुंतर हवाई अड्डे में दिल्ली से 50 से 55 और भुंतर से दिल्ली से मात्र 20 से 22 सवारियों जा रही थी। इसमें भुंतर से दिल्ली का किराया 26,000 हजार रुपये प्रति सीट है। लेकिन अब एटीआर-42 के आने से करीब 20 से 25 फीसदी तक किराया सस्ता होने का अनुमान है।

नीरज कुमार श्रीवास्तव निदेशक भुंतर हवाई अड्डा ने कहा कि अब पुराने विमान की जगह एटीआर-42 सीटर जहाज आज भुंतर पहुंच गया है। आज से इसकी सेवा शुरू हो गई है। छोटा जहाज होने के चलते इसमें अधिक यात्रियों को ले जाने की क्षमता है ऐसे में एटीआर-42 के आने से किराए में भी कमी होगी।

Edited By: Richa Rana