जागरण संवाददाता, शिमला। शिमला के रहने वाले 9 साल के अरुणोदय पिछले 4 साल से लगातार कौन बनेगा करोड़पति देख रहे हैं। उनके पिता जगदीश शर्मा ने बताया कि अरुणोदय हमेशा इनोवेटिव या नई सोच के आइडिया लेकर काम करना चाहता है। इसीलिए 4 साल से कौन बनेगा करोड़पति या ऐसा कोई भी कार्यक्रम जिसमें नई चीज़ देखने को मिलती है। उसमें ज्यादा रुचि दिखाता है। अरुणोदय कौन बनेगा करोड़पति? पिछले 5 साल की उम्र से अपने परिवार के साथ देख रहे है। वह हमेशा यहीं कहता था कि मुझे भी यहां पर जाना है। इसमें हिस्सा लेना है। अब उसकी मेहनत और लगन ने उसकी इच्छा को पूरा किया।

पिता जगदीश शर्मा ने बताया कि जब केबीसी में पूरा परिवार दर्शक दीर्घा में बैठा था। उस समय अरुणोदय अपनी उंगलियों से जल्दी जवाब देने के लिए प्रतिस्पर्धा कर रहे थे। पहले हम सब डरे हुए थे। तीन बार अरुणोदय दूसरे और तीसरे नंबर पर आए। हमें लगा कि शायद यह पहले नंबर पर नहीं आएगा। इस दबाव को उनके बेटे ने अपने दिमाग पर हावी नहीं होने दिया। चंद मिनटों बाद ही अरुणोदय ने पहला स्थान प्राप्त करते हुए हॉट सीट पर अपनी जगह बना ली।

अरुणोदय के पिता ने बताया कि वह बचपन से ही हाजिर जवाब था। अमिताभ बच्चन से मिलने के बाद उसका आत्मविश्वास और बढ़ गया था। उन्होंने भी उसे बताया कि आप इससे ज्यादा कहीं कुछ कर सकते हो, इसलिए दोनों में खुलकर बातें हुई। अरुणोदय अब काफी आत्मविश्वास के साथ बात करते हैं। अरूणोदय ने अमिताभ ही नहीं बल्कि दर्शकों का भी दिल जीत लिया।

हिमाचली कला को भी आगे लाने को उत्साहित:

हिमाचली कला को आगे लाने के लिए अरुणोदय हमेशा तत्पर रहता है। इसलिए हिमाचली टोपी पहन कर गया था। हिमाचली टोपी और हिमाचली नाटी उन्हें काफी पसंद है और इसे बढ़ावा देना चाहते हैं। परिवार में भाई और दादा के साथ रहते है। अरुणोदय मूल रूप से जिला शिमला की तहसील कोटखाई का रहने वाला है।

Edited By: Sanjay Pokhriyal