नाहन,जागरण संवाददाता। हिमाचल प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी भ्रष्टाचार मिटाने के मकसद से सत्ता में आई थी मगर उसके विधायक तथा मंत्री खुद भ्रष्टाचार में पूरी तरह से संलिप्त है। यह आरोप कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं हिमाचल चुनाव मीडिया प्रभारी अलका लांबा ने श्रीरेणुकाजी में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए लगाए। अलका लांबा ने कहा कि जिला सिरमौर से संबंध रखने वाले ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने विद्युत बोर्ड में कई घोटाले किए हैं। जिसमें शोंग टोंग प्रोजेक्ट में 396 करोड का घोटाला उजागर हुआ है। जिला सिरमौर में विद्युत मीटर बदलने का रेट 2572 रुपए प्रति मीटर है। जबकि हमीरपुर जिला के बड़सर उपमंडल में यही रेट मात्र 65 रुपये है। जिससे विद्युत बोर्ड को करोड़ों रुपये का चूना लग रहा है। यह पैसा किस की जेब में जा रहा है।

अलका लांबा ने सुखराम चौधरी पर आरोप लगाया कि उन्होंने विद्युत बोर्ड में दो करोड़ के घटिया स्विच खरीदे, जो कि आज तक कहीं भी प्रयोग नहीं हुए। अलका लांबा ने कहा कि सिरमौर जिले के हाटी समुदाय के लोगों के साथ केंद्र सरकार छलावा कर रही है। नौ सालों से केंद्र में भाजपा की सरकार है। मगर केंद्रीय कैबिनेट बुला कर हिमाचल में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले हाटियों को सब्जबाग दिखाने के लिए कुछ जातियों को जनजातियों में शामिल किया गया । जबकि केंद्र सरकार चाहती, तो लोकसभा का विशेष सत्र बुलाकर कानून में परिवर्तन करके हाटियों को उनका हक व अधिकार दिलवा सकती थी। मगर प्रदेश में चुनाव आचार संहिता लगने से पहले केंद्र सरकार ने हाटियों को यह सबजबाग दिखाकर उन्हें अपने पक्ष में करने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस भी हाटियों को मांग का समर्थन करती हैं। मगर भाजपा सरकार देश को मुद्दों से भटकाने का प्रयास कर रही है।

उन्होंने प्रदेश की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जयराम ठाकुर कठपुतली मुख्यमंत्री साबित हुए हैं। जोकि पूरी तरह से कमजोर पड चुके हैं। उन्हीं के ही प्रशासनिक अधिकारी सरकार पर भेदभाव का आरोप लगा रहे हैं। गरीबी, बेरोजगारी व महंगाई भाजपा पर निरन्तर चुनौती बनती जा रही है। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष व विधायक विनय कुमार, कांग्रेस के प्रेदश सचिव व श्रीरेणुकाजी प्रभारी विनोद जिंटा, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष तपेंद्र चौहान व महासचिव मित्र सिंह तोमर सहित कांग्रेस के अन्य नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Edited By: Richa Rana