संवाद सहयोगी, पालमपुर : फजीहत के बाद पालमपुर में प्रशासन अब जाग गया है। अब प्रशासन ही बलिदानियों की प्रतिमाओं का जीर्णोद्धार करवाएगा। साथ ही इस कार्य के लिए दी गई राशि भी बलिदानियों के स्वजन को लौटा दी है।

पालमपुर प्रशासन ने सात बलिदानियों की प्रतिमाएं स्थापित करने का निर्णय लिया था। प्रतिमाएं बनवाने का आर्डर भी दे दिया था और ये तैयार होकर जुलाई में पहुंच चुकी थी। कारगिल विजय दिवस पर इन प्रतिमाओं को स्थापित करने की योजना किसी कारणवश सिरे न चढ़ सकी थी। सितंबर में भी प्रतिमाओं को स्थापित करने के लिए प्रशासन समुचित जगह नहीं ढूंढ पाया है। अब एसडीएम पालमपुर डाक्टर अमित गुलेरिया ने परमवीर चक्र विजेता बलिदानी कैप्टन विक्रम बतरा और बलिदानी संजय कुमार के स्वजन की ओर से प्रतिमा स्थापित करने के लिए प्रशासन को दी गई राशि लौटा दी है। पालमपुर में प्रथम परमवीर चक्र विजेता मेजर सोमनाथ शर्मा की प्रतिमा को बहुत पहले स्थापित किया था। इसके साथ ही बलिदानी कैप्टन विक्रम बतरा की प्रतिमा भी स्थापित की गई है तथा पिछले साल मेजर सुधीर वालिया की प्रतिमा को भी स्थान दिया गया है। विक्रम बतरा की प्रतिमा पर स्वजन ने आपत्ति जताई है कि यह बलिदानी की शक्ल से मेल नहीं खा रही है। ऐसे में प्रशासन ने अन्य बलिदानियों को मिलाकर विभिन्न गांवों के लिए भी सात प्रतिमाएं मंगवा लीं। इस बीच बलिदानी परिवारों से ली गई राशि पर चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया। किरकिरी के बाद प्रशासन ने स्वजन को राशि लौटा दी है। लोग अब 20 वर्ष बाद स्थापित मेजर सुधीर वालिया के स्वजन से ली गई एक लाख 11 हजार 11 सौ 11 रुपये भी लौटाने की मांग करने लगे हैं। उधर एसडीएम पालमपुर अमित गुलेरिया ने बताया कि इस संदर्भ में जानकारी ली जाएगी। यदि राशि का प्रावधान होता है तो बलिदानी मेजर सुधीर वालिया के स्वजन को भी राशि लौटा दी जाएगी।

...................

आशीष बुटेल बोले-शांता से सीख लें भाजपा नेता

संवाद सहयोगी, पालमपुर : विधायक आशीष बुटेल ने बलिदानियों के स्वजन से उगाही करने की निंदा की है। बुधवार को जारी प्रेस बयान में उन्होंने कहा, क्या सरकार इतनी कंगाल हो चुकी है कि बलिदानियों की शहादत को इतनी निर्ममता से भुला रही है? तर्क दिया कि सरकार मंत्रियों व अफसरों की गाड़ियों पर धन खर्च कर रही है लेकिन बलिदानियों का अपमान कर उनके स्वजन के घाव हरे कर रही है।

बकौल आशीष बुटेल, दो दिन पूर्व उन्होंने बलिदानी कै. विक्रम बतरा के माता-पिता से भेंट की और प्रशासन की निंदनीय घटना पर खेद व्यक्त किया। विधायक ने कहा कि उन्होंने बलिदानी के स्वजन को यकीन दिलवाया कि जल्द स्मारक को नगर निगम की ओर से सुंदर बनाया जाएगा। उन्होंने मुख्यमंत्री से भाषा एवं संस्कृति विभाग को पालमपुर में सभी शहीद स्मारकों को आधुनिक तरीके से बनाने के लिए निर्देश देने की अपील की है। विधायक ने प्रथम प्रधानमंत्री स्वर्गीय पंडित जवाहर लाल नेहरू के स्मारक स्थल के सुंदरीकरण के लिए प्रशासन को अपनी ओर से राशि उपलब्ध करवाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार का आभार जताया है। साथ ही अन्य नेताओं को भी शांता से सीख लेने की सलाह दी है।

Edited By: Jagran