शिमला, जागरण संवाददाता। दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों का वार्षिक परीक्षा परिणाम जुलाई के अंतिम सप्ताह में आएगा। परिणाम तैयार करने के लिए शिक्षा विभाग ने काम शुरू कर दिया है। सोमवार को हर स्कूल में टेबुलेशन कमेटी गठित कर दी गई है। कमेटी बोर्ड की ओर से निर्धारित फार्मूले के अनुसार अंक निर्धारण करेगी। माइग्रेशन लेकर दूसरे स्कूल में दाखिला लेने वाले विद्यार्थियों का नौवीं कक्षा का रिजल्ट पुराने स्कूल से मंगवाने को कहा है, ताकि तय फार्मूले के अनुसार अंक निर्धारण किया जा सके।

उच्चतर शिक्षा विभाग के निदेशक डा. अमरजीत शर्मा ने स्कूल प्रधानाचार्यों और मुख्य अध्यापकों को निर्देश दिया है कि वे शिक्षकों और गैर शिक्षकों का ड्यूटी रोस्टर तैयार करें। किस दिन किस शिक्षक और गैर शिक्षक को बुलाना है यह प्रधानाचार्य तय करेंगे। विभाग की ओर से कहा गया है कि जरूरत के हिसाब से ही शिक्षकों और गैर शिक्षकों को स्कूल बुलाएं। जिन स्कूलों में ङ्क्षहदी व अंग्रेजी विषय के शिक्षक नहीं हैं, वहां पर मूल्यांकन के लिए दूसरे स्कूल से शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जाएगी। जमा दो के लिए स्कूल शिक्षा बोर्ड जल्द फार्मूला तैयार करेगा। इसके लिए सीबीएसई के फार्मूले को भी फालो किया जाएगा। शिक्षा निदेशक ने कालेज प्रधानाचार्यों से स्नातक की वार्षिक परीक्षा पर चर्चा की। उन्होंने तैयारियों को लेकर जायजा लिया। हालांकि परीक्षाएं करवाने का पूरा जिम्मा हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला प्रशासन का है।

एचपीयू में बीटेक के लिए आज से लें दाखिला

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला (एचपीयू) के यूनिवर्सिटी इंस्टीट्यूट आफ इंफार्मेशन टेक्नोलाजी (यूआइआइटी) में शैक्षणिक सत्र में बीटेक कोर्स में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो गई है। दाखिले के लिए पोर्टल 15 जून को खुलेगा। दाखिले की प्रक्रिया 10 जुलाई तक चलेगी। विद्यार्थी वेबसाइट पर जाकर दाखिले से संबंधित जानकारी हासिल कर सकते हैं।

बीटेक के पांच कोर्स में इस बार आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थियों के लिए छह-छह सीटें आरक्षित रखी गई हैं। यह विश्वविद्यालय की तय 60 सीटों से अतिरिक्त हैं। पात्र अभ्यर्थी न मिलने पर सीटें खाली रहेंगी। इसके लिए अलग से मेरिट तैयार की जाएगी। संस्थान के निदेशक प्रो. पीएल शर्मा ने कहा कि बीटेक आइटी, बीटेक कंप्यूटर साइंस इंजीनियङ्क्षरग, बीटेक सिविल इंजीनियङ्क्षरग, बीटेक इलेक्ट्रिकल और बीटेक इलेक्ट्रानिक्स एंड कम्यूनिकेशन की इस बार 360 सीटों के लिए यह आवेदन आमंत्रित किए हैं। संस्थान ने अभी कोरोना संक्रमण के खतरे और शिक्षण संस्थानों के बंद होने के कारण प्रवेश परीक्षा की तिथि तय नहीं की है। इसे बाद में तय कर विद्यार्थियों को सूचित किया जाएगा। इन कोर्स में प्रवेश के लिए सामान्य वर्ग में जमा दो की परीक्षा में 50 फीसद अंक फिजिक्स और मैथ सहित, जबकि आरक्षित वर्ग के लिए जमा दो में 45 फीसद अंक फिजिक्स और मैथ विषय के साथ होने चाहिए। प्रो. पीएल शर्मा ने कहा कि आल इंडिया काउंसिल फार टीङ्क्षचग एजुकेशन (एआईसीटीई ) ने पांचों बीटेक कोर्स का बैच 2021-22 में बैठाने को मंजूरी दे दी है। एआइसीटीई हर साल के लिए बैच बैठाने की अनुमति देता है।

Edited By: Vijay Bhushan