जागरण संवाददाता, हमीरपुर : अंतरराष्ट्रीय वेटलिफ्टर विकास ठाकुर ने लगातार सातवीं बार नेशनल वेटलिफ्टिग चैंपियनशिप जीतकर हिमाचल प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। विकास ने देश के कई वेटलिफ्टरों को धूल चटाकर शीर्ष पर स्थान हासिल किया। हमीरपुर की टौणी देवी तहसील के पटनौण गांव का विकास ठाकुर कई पदक अब तक देश के नाम कर चुका है।

वीरवार को कोलकाता में हुए वेटलिफ्टिग के फाइनल मुकाबले में विकास ने 96 किलोग्राम भार वर्ग सीनियर में 346 किलोग्राम भार उठाकर लगातार सातवीं बार नेशनल वेटलिफ्टिग चैंपियनशिप अपने नाम की। उन्होंने स्नैच में 154 व क्लीन जर्क राउंड में 192 किलोग्राम भार उठाया। दूसरे स्थान पर 327 भार उठाकर छत्तीसगढ़ के जगदीश व ओडिसा के सुरेश यादव 310 किलोग्राम भार उठाकर तीसरे स्थान पर रहे।

विकास ठाकुर नेशनल स्तर के रिकॉर्ड होल्डर हैं और उनके अब तक के रिकॉर्ड की कोई बराबरी नहीं कर पाया है। विकास ठाकुर वर्ष 2013 से लेकर 2016 तक चार बार रिकॉर्ड होल्डर रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी उन्होंने वर्ष 2014 की राष्ट्रमंडल खेलों में पहली बार ग्लासको में 85 किलोग्राम भार वर्ग में देश को चांदी का पदक दिलाया था और वर्ष 2018 में गोल्ड कॉस्ट में हुई राष्ट्रमंडल खेलों में देश को सिल्वर दिलाया था।

विकास के पिता बृज ठाकुर का कहना है कि विकास ने छोटी आयु से ही वेटलिफ्टिग को चुना और आज बडे़ से बडे़ इवेंट जीतकर देश का नाम रोशन कर रहा है। विकास ठाकुर पर उन्हें गर्व है। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल, केंद्रीय राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर, टौणी देवी से बीडीसी प्रेम लता ठाकुर सहित कई लोगों ने भी विकास ठाकुर को सातवीं बार राष्ट्रीय स्तर पर जीत दर्ज करने पर बधाई दी है। पंचायत प्रतिनिधियों ने कहा कि घर आने पर उनका भव्य स्वागत किया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस