जागरण संवाददाता, हमीरपुर : शिक्षा विभाग में मुख्य अध्यापकों के आधे से अधिक पद रिक्त होने पर प्रदेश पदोन्नत स्कूल प्रवक्ता संघ ने चिंता जताई है।

संघ की कोर कमेटी के अध्यक्ष केवल ठाकुर, प्रदेश महामंत्री कमल किशोर शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष संदीप डढवाल ने कहा कि मुख्य अध्यापकों के कुल 850 पदों में से करीब 425 से अधिक रिक्त हैं। इससे जहां स्कूलों में अध्यापन व प्रशासनिक कार्य प्रभावित हो रहे हैं वहीं वित्तीय कार्यो को निपटाने में बाधा हो रही है। अगर मुख्य अध्यापकों के पद पर पदोन्नति की बात की जाए तो दो साल में मुख्य अध्यापकों के सिर्फ पूर्व सैनिक कोटे से संबंधित 22 पदों पर ही पदोन्नति हुई है। वर्तमान में यदि यह पदोन्नति सूची जारी होती है तो 1984 के टीजीटी को 27 साल की सेवा के बाद पहली पदोन्नति प्राप्त होगी।

प्रदेश अध्यक्ष यशवीर जमवाल का कहना है कि हाल ही में प्रतिनिधिमंडल शिक्षा सचिव एवं शिक्षा निदेशक से मिला था। प्रदेश वित्त सचिव मदनलाल, जिला प्रधान बिलासपुर प्रवीण चंदेल, प्रधान कांगड़ा प्रदीप धीमान, प्रधान ऊना विवेक दत्ता, प्रधान सोलन नरेंद्र ठाकुर, प्रधान शिमला राकेश शर्मा, प्रधान कुल्लू मनोज कुमार, प्रधान मंडी दर्शन राणा, प्रधान चंबा मनोज, प्रदेश मीडिया प्रभारी अनूप शर्मा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष जिला हमीरपुर रविदास, वित्त सचिव अजय नंदा, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य प्रीतम कौशल, अरविद जगोता, अनिल धीमान, विनोद शर्मा, दलजीत चौहान, राजकुमार, ध्यान सिंह ने मांग की है कि मुख्याध्यापकों की पदोन्नति सूची को शीघ जारी किया जाए।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस