जागरण संवाददाता, हमीरपुर : कृषि उपज मंडी समिति हमीरपुर की बैठक बुधवार को मंडी समिति अध्यक्ष अजय शर्मा की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। सर्वप्रथम बैठक में वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए लगभग तीन करोड़ 90 लाख का बजट पारित किया गया। कृषि एवं उद्यानिकी के अंतर्गत विभिन्न व्यापारियों को लाइसेंस वितरित करने की स्वीकृति प्रदान की गई। बैठक में मंडी परिसर में आवासीय ब्लाक के द्वितीय तल के निर्माण कार्य को भी मंजूरी प्रदान की गई।

एपीएमसी अध्यक्ष अजय शर्मा ने बताया कि हमीरपुर मुख्यालय पर स्थापित सब्जी मंडी के आधुनिकीकरण पर लगभग एक लाख रुपये खर्च किए गए हैं। हमीरपुर में किन्नू, संतरा, गलगल, अमरुद मुसम्मी आदि की ग्रेडिग के लिए मोबाइल पैकेजिग एंड ग्रेडिग यूनिट की स्थापना लगभग 45 लाख की लागत से की जा रही है। बैठक में हमीरपुर जिला के विभिन्न मंडियों में आधारभूत ढांचे को विकसित करने के लिए चले हुए निर्माण कार्यो की विस्तार से समीक्षा की गई व इन कार्यों को शीघ्र अति शीघ्र पूरा करने के निर्देश अधिकारियों को दिए गए। उन्होंने किसानों का आह्वान किया है कि हमीरपुर मंडी में स्थापित ई-नाम कक्ष से संपर्क स्थापित करके अपने उत्पादों को देश की अन्य मंडियों में बेचें। इस अवसर पर जिला राजस्व अधिकारी आत्माराम, डा. चमन प्रभारी कृषि विज्ञान केंद्र बड़ा, जिला कृषि अधिकारी, उपनिदेशक पशुपालन विभाग, एसएमएस उद्यान विभाग एवं कृषि उपज मंडी समिति के निदेशक मंडल के सदस्य राजेश कुमार, आनंद आदर्श, राजेश गौतम, विनोद पठानिया, राकेश ठाकुर, अनिल भाटिया, अजय विशिष्ट एवं सचिव शगुन सूद सहित अन्य उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran