हमीरपुर, रणवीर ठाकुर। दंपती के बीच मोबाइल फोन के पासवर्ड से बढ़ा विवाद तलाक तक जा पहुंचा। दो छोटे-छोटे बच्चों पर भी यह झगड़ा भारी पड़ा। मामला हमीरपुर, हिमाचल प्रदेश के एक गांव का है। पति-पत्नी के रिश्तों पर इंटरनेट हावी हो गया।

पति ने थाने में दी शिकायत में कहा है कि महिला उसे व दो बच्चों को समय नहीं दे रही थी। वह फेसबुक और वाट्सएप पर ही व्यस्त रहती है। मोबाइल में पासवर्ड लगाकर रखती है।

पति करीब चार वर्ष तक यह सब देखता रहा। समझाने से बात नहीं बनी तो पत्नी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने रिकॉर्ड खंगाला तो महिला और दोस्त के बीच हुए वार्तालाप से पुलिस भी हैरत में पड़ गई। पुलिस ने पति व पत्नी की काउंसिलिंग की, लेकिन बात नहीं बनी। अब मामला न्यायालय में है। बात तलाक तक पहुंच गई है। खामियाजा दो बच्चों को भी भुगतना पड़ रहा है।

पति ने थाने में दी शिकायत में कहा है कि उसकी पत्नी ने दो मोबाइल फोन रखे हैं। इसमें एक फोन पुरुष दोस्त से बात करने के लिए रखा है, जिसे वह किसी को छूने तक नहीं देती है। मोबाइल पर पासवर्ड लगाकर रखती है। पति का कहना है कि पत्नी ने सोशल मीडिया के जरिये दोस्त बनाया है।

दोनों को थाना बुलाया और काउंसिलिंग की, लेकिन पत्नी की हरकतें न सुधरने के कारण मामला न्यायालय भेज दिया है।

-संजीव गौतम, थाना प्रभारी हमीरपुर, हिमाचल प्रदेश।

जानें, क्या कहते हैं विशेषज्ञ 

युवा पीढ़ी को इंटरनेट का उपयोग अपने लाभ के लिए करना चाहिए। साथ ही, इसका इस्तेमाल जरूरत के मुताबिक होना चाहिए। यह सच है कि इंटरनेट से वैवाहिक जीवन में खटास के मामले सामने आ रहे हैं। जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल भी इसका कारण है।

-डॉ. संदीप कुमार, मनोचिकित्सक मेडिकल कॉलेज हमीरपुर।

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस