संवाद सहयोगी, सुंदरनगर : हिमाचल राज्य पेंशनर्स समाज के प्रदेशाध्यक्ष एजी शेख और महासचिव डीआर परवालिया ने प्रदेश सरकार ने अब तक सातवें पे कमीशन को लागू न करने पर भारी रोष प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के पहले भाजपा ने वादा किया था कि वह पेश कमीशन को सरकार में आते ही लागू करेंगे, लेकिन हैरानी की बात तो यह है कि सरकार अब इस मुद्दे पर चर्चा भी करना उचित नहीं समझती है। यहां तक प्रदेश में विभिन्न कर्मचारी संघ भी इस मांग को लेकर चुप्पी साधे बैठे है। उन्होंने कहा कि जब से पंजाब में कांग्रेस की कैप्टन अमरेंद्र सिंह सरकार सत्ता में आई है वह वित्तीय हालत खराब होने की बात कह रही है। जिसके चलते वह सातवें पे कमीशन को लागू नहीं कर रही है। प्रदेश सरकार भी पंजाब के सातवें पे कमीशन के लागू करने का इंतजार न कर केंद्र के पे कमीशन को हिमाचल में लागू करने की कवायद शुरु करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर सरकार पंजाब के 7वें पे कमीशन को लागू करने का इंतजार करेगी या अब अपना पे कमीशन बनाने की सोचेगी को इसमें बहुत अधिक समय व्यतीत होगा। जिससे सरकार व कर्मचारियों दोनों का आर्थिक नुकसान होगा। उन्होंने सरकार से मांग की है कि वह दीपावली से पहले हिमाचल में सातवें पे कमीशन को लागू करने की घोषणा करें।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस