जागरण संवाददाता, हमीरपुर : विज्ञान के क्षेत्र में अनुसंधान एवं चर्चाएं जरूरी हैं। आज इन्हीं अनुसंधानों की बदौलत हम लोग स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि के क्षेत्र में आगे बढ़ रहे हैं। यह बात ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने एनआइटी के सभागार में हिम साइंस कांग्रेस एसोसिएशन की दो दिवसीय कांफ्रेंस का शुभारंभ अवसर पर कही। कहा पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी ने देश के विकास में विज्ञान के महत्व को समझते हुए जय जवान, जय किसान और जय विज्ञान का उद्घोष किया था।

पोखरण में परमाणु बम के सफल परीक्षण के बाद पूरी दुनिया को एक सशक्त राष्ट्र का संदेश भी दिया। यही नहीं विज्ञान के क्षेत्र में अनुसंधान को प्राथमिकता देते हुए अटल बिहारी वाजपेयी ने नवोदित वैज्ञानिकों को आगे बढ़ने का अवसर भी दिया गया। इसी को आगे बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आइटी सेक्टर को मजबूत करते हुए डिजिटल इंडिया का उद्घोष किया है। इसमें भी अनुसंधान कर्ताओं की अहम भूमिका रही है। इसी डिजिटल इंडिया के तहत आज भारत वैश्विक ग्रोथ इंजन बना है।

बैंकिंग सुधारों से अर्थव्यवस्था को बल मिला है। इस अवसर पर विधायक नरेंद्र ठाकुर ने कहा विज्ञान का जीवन में अत्यंत महत्व है, विज्ञान के कारण ही वर्तमान में लोगों को बेहतर सुविधा मिलेंगी तथा लोगों के जीवन स्तर में सुधार के लिए वैज्ञानिकों को कार्य करना होगा। इससे पहले एसोसिएशन के अध्यक्ष दीपक पठानिया ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया। कार्यक्रम में जिला परिषद के अध्यक्ष राकेश ठाकुर, एपीएमसी के चेयरमैन अजय शर्मा, जिला अध्यक्ष भाजपा अनिल ठाकुर, महासचिव हरीश शर्मा सहित विभिन्न विश्वविद्यालयों के वैज्ञानिक मौजू रहे।