धर्मशाला, [जागरण संवाददाता] । पर्यटन सीजन में एचआरटीसी भी मालामाल हो रहा है और इसका कारण निगम की लंबे रूटों पर चलाई जा रही वोल्वो बसें हैं। लंबे रूटों में दौड़ाई जा रही वोल्वो बसें इस दिनों फूल पैक होने के साथ-साथ प्रति किलोमीटर निगम को 30 से 35 रुपये कमाकर दे रहीं हैं। सबसे ज्यादा लाभ दिल्ली, अमृतसर व चंडीगढ़ रूटों की गाड़ियों से हो रहा है।

मैदानी क्षेत्रों में पड़ रही गर्मी के कारण राजधानी दिल्ली सहित पड़ोसी राज्यों के पर्यटक धर्मशाला का रुख कर रहे हैं। इन पर्यटकों की ज्यादातर आमद वीकेंड पर रहती है और निगम की निर्धारित रूटों वाली बसें ऑनलाइन ही बुक हो रही हैं। परिवहन निगम भी वीकेंड पर स्पेशल बसें लगा रहा है, ताकि पर्यटकों को वापसी में किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े।

निर्धारित रूटों के अलावा स्पेशल बसें भी फुल जा रही हैं। संभावना जताई जा रही है कि आने वाले दिनों में मैदानी क्षेत्रों में पड़ी रही गर्मी के कारण पर्यटकों की संख्या धर्मशाला में और बढ़ेगी। वीकेंड पर मैक्लोडगंज में चार से पांच हजार तक देसी-विदेशी पर्यटक यहां पहुंचते हैं। परिवहन निगम की बसों की बुकिंग के लिए ऑनलाइन सुविधा तो रखी ही है, लेकिन धर्मशाला, मैक्लोडगंज व कांगड़ा में बुकिंग काउंटर भी स्थापित किए हैं।

पर्यटन सीजन के दौरान वोल्वो बसों में अच्छी कमाई हो रही है। ऑफ सीजन में तो खर्च पूरा करना भी कई बार मुश्किल हो जाता है। अप्रैल से वोल्वो बस सेवा में निगम का आमद बढ़ी है।-पंकज चड्ढा, क्षेत्रीय प्रबंधक एचआरटीसी, धर्मशाला।

इन रूटों से हो रही कमाई:

दिल्ली से धर्मशाला नाइट सर्विस में तीन बसें लगाई गई हैं। पहली बस 75 रुपये प्रति किलोमीटर, दूसरी 51 रुपये व तीसरी बस 82 रुपये प्रति किलोमीटर कमा रही है। दिन में चलाई जा रही धर्मशाला से दिल्ली रूट में 56 रुपये, चंडीगढ़ से धर्मशाला 89 रुपये, हरिद्वार से धर्मशाला 74 रुपये व जबकि अमृतसर से धर्मशाला वोल्वो बस 89 रुपये प्रति किलोमीटर कमा रही है। निगम की बसों में इंधन, अन्य खर्च, चालक व परिचालक के मानदेय को मिलाकर प्रति किलोमीटर 45 रुपये का खर्च होता है।

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस