जागरण संवाददाता, धर्मशाला : छह सितंबर को धर्मशाला के गुरुद्वारा रोड में 29.99 ग्राम हेरोइन और अन्य सामग्री समेत पकड़े गए पांच नशा तस्कर छन्नी बेली के एक नशा तस्कर से नशीले पदार्थो की खरीद करते थे। आरोपितों ने पूछताछ के दौरान बताया कि पिछली बार उन्होंने छन्नी बेली के ही एक व्यक्ति ने हेरोइन खरीदी थी। आरोपितों की शिनाख्त के आधार पर कांगड़ा पुलिस ने रविवार को भदरोआ में छन्नी बेली में नशा तस्कर को ढूंढ़ने के लिए दबिश दी, लेकिन बताया जा रहा है कि उक्त नशा तस्कर इस समय पंजाब तस्करी के मामले में ही पंजाब पुलिस की हिरासत में है। इसके चलते पुलिस के कोई खास सुबूत हाथ नहीं लगा है।

यहां बता दें कि पुलिस की एंटी नारकोटिक सेल ने छह सितंबर को धर्मशाला के गुरुद्वारा रोड के पास पाच नशा तस्करों को 29.99 ग्राम चिट्टा, 65 हजार रुपये कैश, आठ मोबाइल, एक तोलने वाली मशीन और तीन एटीएम समेत हिरासत में लिया था। आरोपितों की पहचान 20 वर्षीय अमन वर्मा डाकघर भदरोआ तहसील नूरपुर, 31 वर्षीय अजय कुमार गाव पनियार जिला गुरदासपुर पंजाब, 20 वर्षीय अमित निवासी हरिजन कॉलोनी दीनानगर जिला गुरदासपुर, 29 वर्षीय रूबी पत्‍‌नी अजय कुमार निवासी पनियार जिला गुरदासपुर और 37 वर्षीय बबीता गाव व डाकघर कठुआ जम्मू-कश्मीर को गिरफ्तार किया था। इन सभी आरोपितों को 11 सितंबर तक पुलिस रिमाड पर भेजा गया है। पुलिस पूछताछ में यह भी सामने आया है कि पकड़े गए आरोपियों में एक स्वयं ही इस नशे का आदी है। उधर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कागड़ा संतोष पटियाल ने बताया कि जिस व्यक्ति से नशा खरीदने की बात आरोपितों ने कही थी, उसकी रविवार को छानबीन की गई। पाचों आरोपितों द्वारा बताए गए व्यक्ति की जाच करने पर पाया गया है कि वह पंजाब जेल में है। पुलिस द्वारा मामले में सभी बिंदुओं पर जाच को आगे बढ़ाया जा रहा है।

Posted By: Jagran