जागरण संवाददाता, पालमपुर : कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर के पूर्व छात्र अब नए छात्रों के लिए फैलोशिप कार्यक्रम चलाएंगे। इसके लिए कुलपति प्रो. अशोक कुमार सरयाल ने नई पहल की है। प्रो. सरयाल ने बीएससी (कृषि) व एमएससी शिक्षा कृषि महाविद्यालय पालमपुर से उत्तीर्ण की है। उन्होंने हाल ही में बीएससी (कृषि) के अपने 1976-80 बैच के पूर्व छात्र निमंत्रित किए थे और पूर्व सहपाठियों से चर्चाएं की। 1976-80 के विद्यार्थियों जिन्होंने कृषि महाविद्यालय से बीएससी (कृषि) उत्तीर्ण की है और जो विभिन्न सरकारी तथा गैर सरकारी संस्थानों में कार्यरत हैं, के नाम पर बैच 1976-80 फैलोशिप प्रारंभ करने का निर्णय लिया है। इसके लिए 1976-80 सत्र के पूर्व छात्र प्रत्येक बैच के समन्वयक के माध्यम से वित्त नियंत्रक के पास बराबर राशि जमा करवाएंगे।

प्रो. सरयाल ने कहा कि अगस्त 2016 में पालमपुर में सेवाग्रहण करने के तुरंत बाद विदेशी तथा प्रतिष्ठित भारतीय संस्थानों, पंजाब कृषि विश्वविद्यालय, हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय तथा भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों की तर्ज पर पूर्व छात्रों को शामिल करने के इच्छुक थे। कृषि महाविद्यालय के 1966-67 के प्रथम सत्र के पूर्व छात्रों ने पहले ही कुलपति के साथ सहमति जता दी थी और बैच 1966-70 फैलोशिप प्रारंभ करने के लिए इस सत्र के समन्वयक डॉ. आरके शर्मा ने सूचित भी कर दिया है। कुलपति प्रो. अशोक कुमार सरयाल ने आशा प्रकट की है कि पूर्व छात्रों के अतिरिक्त दूसरे तीनों महाविद्यालयों पशुचिकित्सा महाविद्यालय, गृहविज्ञान महाविद्यालय तथा आधारभूत विज्ञान महाविद्यालय के पूर्व छात्र भी संबंधित महाविद्यालयों की शैक्षणिक व अपने पेशे से संबंधित गतिविधियों को सुदृढ़ करने में योगदान देंगे।

Posted By: Jagran