संवाद सहयोगी, पांगी : सीजन की दूसरी बर्फबारी के बाद जिला चंबा के जनजातीय क्षेत्र पांगी का संपर्क शेष विश्व से कट गया है। उपमंडल मुख्यालय किलाड़ में एक फीट तक बर्फ गिरी है, जबकि इन क्षेत्रों की दुर्गम पंचायतों में दो से तीन फीट तक बर्फबारी होने की सूचना है। लिहाजा पांगी प्रशासन ने अलर्ट जारी करते हुए लोगों को मौसम के साफ होने पर ही घर से न निकलने की सख्त हिदायत दी है। मुख्यालय किलाड़ एक फीट, साचपास तीन फीट, कुमार परमार में डेढ फीट, चस्क भटोरी में डेढ़ फीट, हिलटवार में डेढ फीट समेत निचले क्षेत्रों में बर्फ की चादर बिछ गई है। बुधवार देररात शुरू हुआ बर्फबारी का दौर वीरवार को भी दिनभर जारी रहा। इस कारण समूचा जिला ठंड की चपेट में आ गया है। हालात यह हैं कि पांगी में बर्फबारी ने जनजीवन प्रभावित किया है। हालांकि लोक निर्माण विभाग की ओर से जनता की सहुलियत को ध्यान में रखते हुए फील्ड के अधिकारियों को बंद पडे़ मार्ग को बहाल करने का कार्य युद्धस्तर पर करने के निर्देश दिए हैं। बर्फबारी के कारण लोग घरों में कैद होकर रह गए हैं। घाटी के लोगों ने हालांकि बर्फबारी से पूर्व राशन, लकड़ी व अन्य प्रबंध कर लिए हैं। पांगी में हुए ताजा हिमपात और मौसम के कड़े रुख के कारण अधिकारियों व कर्मचारियों को अलर्ट कर दिया गया है। जनता से अपील है कि मौसम साफ होने के उपरांत ही घर से बाहर निकलें। हालांकि घाटी में किसी भी क्षेत्र से बर्फबारी के कारण अप्रिय घटना होने की कोई भी सूचना नहीं है।

विश्रुत भारती, एसडीएम पांगी। पांगी में भारी बारिश व बर्फबारी से अगर कोई मार्ग पर बंद होता है तो उसे जल्द बहाल करवा दिया जाएगा।

राजीव अधिशाषी, अभियंता लोनिवि पांगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस