संवाद सहयोगी, चनेड : चंबा-पठानकोट मार्ग पर सरू के समीप बनाई गई वर्षाशालिका की हालत खस्ता हो गई है। वर्षाशालिका की छत का एक किनारा क्षतिग्रस्त हो गया है व स्लेट भी टूट चुके हैं। अंदर कचरा भी बिखरा रहता है। इस कारण इसके भीतर बैठने में लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

स्थानीय निवासी मुकेश कुमार, पवन, राकेश, महेंद्र सिंह, पम्मू, राज कुमार, सुरेश, पप्पू, मुकेश, राजेंद्र, कमलेश तथा विनोद कुमार सहित अन्य का कहना है कि यदि जल्द ही वर्षाशालिका की मरम्मत न करवाई गई तो आने वाले समय में इसकी हालत और भी खस्ता हो जाएगी, जिससे इसके होने या न होने का कोई भी मतलब नहीं रह जाएगा। बारिश होने पर वर्षाशालिका की छत से टपकने लगती है। ग्रामीणों ने मांग की है कि वर्षाशालिका की जल्द मरम्मत करवाई जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस