संवाद सहयोगी, चंबा : मीडिया समाज का दीपक ओर दर्पण हैं। गांव-गांव तक छोटे से बड़े व्यक्ति तक हर तरह की जानकारी पहुंचाने व समस्याओं को प्रशासन के समक्ष लाने में मीडिया अहम भूमिका अदा करता है। राष्ट्रीय प्रेस दिवस पर सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के तत्वावधान में उपायुक्त कार्यालय चंबा में आयोजित जिलास्तरीय कार्यक्रम की अध्यक्षत करते हुए उपायुक्त डीसी राणा ने यह बात कही। इस दौरान भारतीय प्रेस परिषद द्वारा सुझाए गए विषय मीडिया से कौन नहीं डरता पर प्रिट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के प्रतिनिधियों ने विस्तृत चर्चा की।

उपायुक्त ने मीडिया प्रतिनिधियों को राष्ट्रीय प्रेस दिवस की बधाई देते हुए कहा कि मीडिया लोकतंत्र का अभिन्न हिस्सा है। वर्तमान परिपेक्ष्य में मीडिया का स्वरूप भी बदला है। तत्काल समाचार संप्रेषण के दौर में मीडिया कर्मियों के समक्ष कई चुनौतियां भी उत्पन्न हुई हैं। उन्होंने कहा कि तथ्यपरक सूचनाओं का प्रेषण और आलोचना में सकारात्मकता भी रहनी आवश्यक है। लोकतांत्रिक व्यवस्था में किसी को किसी से भी डरने की व्यवस्था नहीं अपितु किसी भी प्रकार के कार्यों में डर का सकारात्मक पहलू होना लाजमी है।

पत्रकार बालकृष्ण पराशर ने भारतीय प्रेस परिषद के गठन और प्रेस दिवस के आयोजन को लेकर विस्तृत चर्चा करते हुए भारतीय प्रेस परिषद द्वारा सुझाए गए विषय ''मीडिया से कौन नहीं डरता '' पर चर्चा करते हुए कहा कि मीडिया से केवल आम आदमी नहीं डरता। उपायुक्त ने इस दौरान चंबा प्रेस क्लब की पहल पर आधारित मीडिया संवर्धन एवं जागरूकता कार्यक्रम को महत्वपूर्ण बताते हुए जिला प्रशासन द्वारा हर संभव सहायता का आश्वासन भी दिया ।

इस अवसर पर प्रेस क्लब प्रधान विनोद कुमार, योगेश महेंद्रु, हामिद खान, शिव शर्मा, दीपक शर्मा, काकू चौहान, सुरेश ठाकुर, शोमी प्रकाश भूव्वेटा, हेम सिंह ठाकुर, केएस प्रेमी ने भी परिचर्चा में हिस्सा लिया।

Edited By: Jagran