संवाद सहयोगी, चंबा : जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा चंबा में 21 और 22 अक्टूबर को दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें पुलिस, होमगार्ड एवं अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों ने भाग लिया। इस अवसर पर एसडीएम चंबा शिवम प्रताप सिंह ने प्रतिभागियों से रूबरू होकर उन्हें कार्यशाला की जरूरत और महत्व के बारे में बताया।

उन्होंने बताया कि वे इस कार्यशाला से विभिन्न प्रकार की तकनीकें सीख कर भविष्य में किसी आपदा से निपटने के लिए उपयोग में ला सकते हैं। कार्यशाला में प्रतिभागियों को खोज व बचाव की विभिन्न तकनीकों का प्रशिक्षण दिया गया, जिसके अंतर्गत रॉक क्लाइंबिंग, नदी पार करना, अस्थायी शेड बनाना, स्ट्रेचर बनाना, जुमारिग रैपलिग एवं आधुनिक उपकरणों का प्रयोगात्मक प्रशिक्षण दिया गया। इसके अलावा प्रतिभागियों ने स्वयं भी आपदा बचाव तकनीकें सीखीं। सभी प्रतिभागियों ने आपदा प्रबंधन की तकनीकों को समझा, ताकि आपदा के समय वे उपलब्ध संसाधनों को उपयोग कर सकें। कार्यशाला में जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण से प्रशिक्षण एवं क्षमता निर्माण समन्वयक आशीष सेमवाल, नरेंद्र कुमार और सुमित गुप्ता द्वारा प्रशिक्षण दिया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप