संवाद सहयोगी, साहो : साहो-कुडथा सड़क पर सोमवार दोपहर करीब डेढ़ बजे जलशक्ति विभाग द्वारा बिछाई गई घरोसन पाइपलाइन ढिकलीरी नामक स्थान पर अचानक फट गई। पाइपलाइन फटने के कारण उक्त मार्ग से गुजरने वाले वाहन चालकों, आम लोगों सहित साथ लगते गांव के ग्रामीणों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

सड़क के समीप फटी पाइपलाइन में पानी का प्रेशर इतना अधिक था कि वहां पर काफी ऊंचाई तक फव्वारा चलता रहा, जिससे सड़क से वाहन निकालना भी काफी मुश्किल हो गया है। हजारों लीटर पानी भी व्यर्थ बह गया।

ग्रामीण मनु, राकेश, पप्पू, बलराम, अजू, हनी, आशो, राम तथा लक्ष्मण ने कहा कि इस पाइपलाइन के फटने के चलते साथ वाला हिस्सा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हुआ है। वहीं कोलतार को भी इससे नुकसान पहुंचा है। पाइपलाइन फटने के चलते साथ लगते गांव में रहने वाले ग्रामीणों के घरों को खतरा पैदा हो रहा है। वहीं ठंड के मौसम में यह पानी के फव्वारे मुसीबत बढ़ा रहे हैं। लोगों का कहना है कि पाइप फटने के साथ ही विभागीय कर्मचारियों को इसकी सूचना दी गई थी लेकिन काफी देर तक कोई भी कर्मचारी इसे बंद करने नहीं आया। ऐसे में काफी देर तक पानी व्यर्थ बहा तथा लोगों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। करीब साढ़े तीन बजे इसे कर्मचारियों की ओर से बंद किया गया, जिसके बाद स्थानीय लोगों सहित वाहन चालकों ने राहत की सांस ली।

मालूम हो कि इससे पूर्व क्षेत्र में पानी की पाइपलाइनों की घटनाएं सामने आ चुकी हैं इसलिए ग्रामीणों ने विभागीय अधिकारियों से आग्रह किया है कि इस पाइपलाइन की देखरेख का जिम्मा संभालने वाली एजेंसी को अपने कर्मचारियों की टीम तैनात रखनी चाहिए, ताकि पाइप फटने के दौरान ही इसके गेट वाल्व खोल दी जाए और लोगों को ऐसे समस्याओं का सामना न करना पड़े।

------

उक्त स्थान पर पाइपलाइन फटने के बारे में सूचना मिली थी। सूचना मिलने के उपरांत तार विभागीय कर्मचारियों को पानी बंद करने के लिए कहा था। इसके बाद कर्मचारियों की टीम ने मौके पर पहुंचकर पानी को बंद कर दिया।

-प्रवीण शर्मा, कनिष्ठ अभियंता जल शक्ति विभाग अनुभाग-एक।

Edited By: Jagran