संवाद सहयोगी, चंबा : सुंगल पंचायत में बुधवार को पागल कुत्ते ने एक ही परिवार के चार लोगों को काट लिया। सभी को मेडिकल कॉलेज चंबा में उपचार दिया गया। वहीं, पागल कुत्ते ने गांव में ही एक दुधारू गाय पर भी दांत गढ़ा दिए। लोगों को जब इस बात की जानकारी मिली कि गाय पागल हो गई तो उनके होश उड़ गए। कुत्ते की ओर से काटी गई गाय का दूध गांव के 13 लोगों ने पी लिया था। सभी लोगों को मेडिकल कॉलेज में प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। पागल कुत्ते के आंतक से क्षेत्र में हड़कंप मच गया है।

सभी लोगों को प्राथमिक उपचार के लिए मेडिकल कॉलेज चंबा लाया गया जहां उन्हें एंटी रैबीज के इंजेक्शन लगाकर पट्टी की गई। लोगों ने पागल गाय का भी पशुपालन केंद्र में उपचार करवाया है। इस दौरान पशुपालन विभाग ने लोगों को गाय का दूध इस्तेमाल न करने की सलाह दी है।

स्थानीय लोगों का कहना है कि पंचायत में दिन-प्रतिदिन लावारिस कुत्तों की संख्या बढ़ रही है। इससे यहां पर लोगों को परेशान होना पड़ रहा है। कई बार स्कूली बच्चों को स्कूल छोड़ने के लिए अभिभावकों को जाना पड़ता है। लोगों का भी अकेले घर से निकलना मुश्किल हो गया है। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि पंचायत वासियों को लावारिस कुत्तों के आतंक से निजात दिलाई जाए। ये लोग हुए कुत्ते के काटने का शिकार

पागल कुत्ते के काटने से रितिक पुत्र तनु कुमार, हर्ष पुत्र पंकज कुमार, पूजा पत्नी तनु कुमार और तनु कुमार पुत्र कल्याण घायल हो गए। गाय के दूध से इन लोगों की बिगड़ी तबीयत

सबिया बेगम पत्नी मोहम्मद इकबाल, ¨रका ¨सह पुत्र कल्याण, रीना पुत्री पवन कुमार, आशा पुत्री मो¨हद्र, पल्लवी पुत्री मो¨हद्र, आशिया पत्नी संदीप मोहम्मद, संदीप मोहम्मद पुत्र इकबाल मोहम्मद, मिचो देवी पत्नी मो¨हद्र, ढोलकी देवी पत्नी जय ¨सह, चंपा देवी पत्नी कल्याण, आरती पत्नी पंकज, शिल्पा पुत्री संजू और हितेश पुत्र पंकज । .......

पागल कुत्ते के काटे गए चार लोगों समेत कुल 17 लोगों को एंटी रैबीज के इंजेक्शन लगाए गए हैं। इस बारे में लोगों को एहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

डॉ. विनोद शर्मा, चिकित्सा अधीक्षक मेडिकल कॉलेज चंबा।

Posted By: Jagran