विशाल सेखड़ी, डलहौजी

कोरोना संक्रमण के बढ़ने का असर पर्यटन कारोबार पर भी पड़ा है, जिससे की जनवरी महीने के पहले सप्ताह तक होटलों में चल रही 80 फीसद के करीब आक्युपेंसी दर गिरकर 15 से 20 फीसद के बीच सिमट गई है। एकाएक पर्यटकों की आमद कम हो जाने के कारण पर्यटन कारोबार के भी मंदा पड़ जाने से डलहौजी के पर्यटन कारोबारियों में निराशा है।

हिमपात होने के बाद काफी संख्या में पर्यटक डलहौजी का रूख करते हैं, जिससे की विटर सीजन में भी डलहौजी में पर्यटकों की खूब रौनक रहती है। जनवरी महीने के पहले सप्ताह तक डलहौजी में काफी संख्या में देशभर से पर्यटक पहुंचे थे, लेकिन कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी होने से पर्यटकों की संख्या में धीरे-धीरे कमी आने लगी है। डलहौजी में इन दिनों केवल मात्र पंजाब व जम्मू का पर्यटक ही पहुंच रहा है। डलहौजी में बर्फ होने के बावजूद कोरोना संकट के चलते काफी कम संख्या में पर्यटक पहुंचने से पर्यटन कारोबारियों को नुकसान झेलना पड़ रहा है।

होटल संचालक एसओपी का कर रहे पालन

कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी होने के बाद डलहौजी में काफी कम संख्या में पर्यटक पहुंच रहे हैं, जबकि होटल संचालक सरकार की ओर से जारी एसओपी की पूर्ण रूप से पालना कर रहे हैं, जिसके तहत पर्यटकों को कोरोना उपयुक्त व्यवहार अपनाने के प्रति जागरूक किया जा रहा है। वहीं होटल परिसर सहित कमरों व ऐसी सभी जगहों को नियमित रूप से सैनिटाइज करने के साथ पर्यटकों के हाथों को सैनिटाइज करवाने के लिए होटलों में पर्याप्त स्थानों पर हैंड सैनिटाइजेशन की भी पूरी व्यवस्था है। कोरोना संक्रमण बढ़ने से पर्यटन कारोबार प्रभावित हुआ है। होटलों में आक्युपेंसी दर 15 से 20 फीसद के बीच ही रह गई है, जिससे होटल संचालकों को काफी नुकसान हो रहा है।

हरप्रीत सिंह, महासचिव होटल एसोसिएशन डलहौजी। डलहौजी में गत दिनों हुए हिमपात के बाद काफी संख्या में पर्यटकों ने अग्रिम बुकिग करवाई थी, जिससे पर्यटन कारोबार काफी अच्छा रहने वाला था, लेकिन कोरोना के मामलों में फिर से बढ़ोतरी होने से पर्यटकों ने घूमने फिरने के अपने प्लान में बदलाव कर लिया है। होटलों में अग्रिम बुकिग अब तक 80 प्रतिशत तक रद्द हो गई है।

करन मोंगा, उपाध्यक्ष होटल एसोसिएशन डलहौजी।

कोरोना का बढ़ता संकट पर्यटन कारोबार को फिर से निगलने लगा है। पर्यटकों ने अग्रिम बुकिग रद करवा दी है, जिससे जनवरी तो पर्यटन की ²ष्टि से मंदा रहेगा ही। वहीं फरवरी में भी हालत सुधरते दिखाई नहीं दे रहे हैं।

अमित गंडोत्रा, होटल सनराइज डलहौजी। हिमपात होने से काफी ज्यादा अग्रिम बुकिग आने से जनवरी में अच्छे कारोबार की उम्मीद थी, लेकिन कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी होने से पर्यटक अब यहां नहीं आना चाहते हैं, ऐसे में उन्होंने अग्रिम बुकिग रद करवा दी है।

राहुल उपमन्यु, होटल एल्प्स डलहौजी।

Edited By: Jagran