संवाद सहयोगी, चंबा : ग्राम पंचायत सिल्लाघ्राट का एक प्रतिनिधिमंडल वीरवार को उपायुक्त चंबा से मिला। इस दौरान ग्रामीणों ने उपायुक्त के माध्यम से मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन प्रेषित किया। ग्रामीणों आशा कुमारी, सुरेंद्र कुमार, अमर सिंह, रूस्तम, चमन सिंह, लाल चंद, भगतो, ख्यालिया राम, नूर हसन, मोहम्मद रफी, चतरो, टेक सिंह, इंद्र सिंह, रमेश कुमार, पवन कुमार, प्रदीप, जय गोपाल, चैन लाल तथा दलीपू ने सिविल सप्लाई कारपोरेशन की सिल्लाघ्राट में स्थित दुकान को बंद न करने की मांग रखी। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में सिल्लाघ्राट में सिविल सप्लाई कारपोरेशन की दुकान चल रही है, लेकिन, सिविल सप्लाई कारपोरेशन की दुकान को बंद करके सहकारी सभा की दुकान खोलने की तैयारी की जा रही है। इसका सिल्लाघ्राट के सभी लोगों ने कड़ा विरोध किया है। लोगों का कहना है कि सिविल सप्लाई की दुकान पिछले काफी समय से चल रही है। इससे यहां के ग्रामीणों को काफी लाभ मिल रहा है। जब सबकुछ सही चल रहा है तो फिर दुकान को बंद करने का निर्णय क्यों लिया गया है। ग्रामीण यही चाहते हैं कि सिविल सप्लाई की दुकान को बंद करके उसके स्थान पर सहकारी सभा की दुकान न खोली जाए। यह निर्णय जल्द से जल्द लिया जाए। साथ ही लोगों ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सिल्लाघ्राट में वर्तमान समय में चल रही सिविल सप्लाई कारपोरेशन की दुकान को बंद करके उसके स्थान पर सहकारी सभा की दुकान को खोला जाता है तो ग्रामीण सरकार तथा प्रशासन के खिलाफ सड़क पर उतरकर प्रदर्शन करने से भी गुरेज नहीं करेंगे। इसकी जिम्मेदारी सरकार तथा प्रशासन की होगी। ग्रामीणों का कहना है कि सिल्लाघ्राट में सिविल सप्लाई की दुकान बहुत अच्छे से चल रही है। इसे बंद करने का निर्णय किसी भी तरह से सही नहीं है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस