जागरण संवाददाता, चंबा : ग्राम पंचायत कलौता में शादी के लिए जबरन दबाव बनाने पर पुलिस ने पंजाब के दो लोगों को गिरफ्तार किया है। मामले का खुलासा उस समय हुआ जब चाइल्डलाइन चंबा को टोल फ्री नंबर 1098 पर इसकी सूचना मिली। चाइल्डलाइन ने मामले की जांच कर इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मामले में संलिप्त दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

चाइल्डलाइन चंबा को सूचना मिली कि ग्राम पंचायत कलौता में एक 17 वर्षीय लड़की को पंजाब से कुछ लोग लेने आए हैं। शिकायतकर्ता ने बताया कि उक्त लड़की का मात्र दो वर्ष की आयु में ही विवाह तय कर दिया गया था। ऐसे में अब 17 वर्ष की आयु पूरी होने पर वे लड़की को लेने आए हैं। लेकिन, जब लड़की ने जाने से इन्कार कर दिया तो उन्होंने उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी।

पुलिस थाना सदर चंबा का दल बुधवार को मौके पर गया और मामले में संलिप्त दोनों आरोपितों बशीर अहमद और श्यामू निवासी राणी पुर तहसील फगवाड़ा जिला कपूरथला (पंजाब) को गिरफ्तार कर लिया। बहरहाल, इस घटना ने एक बार फिर जिले में चल रही बाल विवाह की कुप्रथा की पोल खोलकर रख दी है। कलौता पंचायत में बाल विवाह से संबंधित सूचना मिली थी। छानबीन कर मामले की सच्चाई का पता किया तो पुलिस को सूचित किया।

कपिल शर्मा, समन्वयक चाइल्डलाइन चंबा। चाइल्डलाइन से शिकायत मिलते ही पुलिस दल को मौके पर भेजा था। पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

डॉ. मोनिका, जिला पुलिस अधीक्षक चंबा।

Posted By: Jagran