संवाद सहयोगी, बम्म : घुमारवीं उपमंडल के अंतर्गत भराड़ी थाना से संबंधित क्षेत्र में बिना पंजीकरण के बाहरी राज्यों के लोगों का घूमना लगातार जारी है। ऐसे लोग नकली पहचान पत्र बनवाकर गांव के लोगों को गुमराह करते हैं। ऐसा ही एक वाकया मैहरीं काथला पंचायत के न्यूं गांव में हुआ जब बिहार के दो युवक गांव-गांव में घूमकर चांदी व पीतल के पुराने बर्तनों को साफ करने के लिए कहने लगे। ये युवक पंचायत प्रधान कांता शर्मा के घर पहुंचे तो पुराने चांदी व तांबे के बर्तनों को साफ करने के लिए कहने लगे। प्रधान कांता शर्मा व क्षेत्र की महिलाओं ने इन्हें पकड़ लिया गया।

जब इन लोगों के पहचान पत्र देखे गए तो वह बिल्कुल नकली पाए गए, क्योंकि आधार कार्ड पर लगा स्कैन कोड बिल्कुल काम नहीं कर रहा था। बाद में पूछताछ में युवकों बताया कि उनके असली आधार कार्ड बिहार में हैं तथा यह उनकी फोटो कॉपी है। वे आज ही इस गांव में आए हैं तथा इससे पहले किसी भी घर में जाकर उन्होंने काम नहीं किया। पकड़े जाने पर दोनों युवकों ने रहने के लिए वर्षा शालिका व किसी बस स्टैंड में रात गुजारने की बात कही।

पंचायत प्रधान कांता शर्मा ने क्षेत्र के लोगों से अपील करते हुए कहा है कि इस तरह के ठग लोगों से बचें और इन लोगों का थाना पंजीकरण न होने पर इनके खिलाफ तुरंत कार्रवाई करें। उन्होंने जिला उपायुक्त व पुलिस विभाग से इस तरह के लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है तथा नकली आधार कार्ड बनाने वालों को भी दंडित किया जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस