संवाद सहयोगी, घाघस : मत्स्य प्रजनन केंद्र दयोली में तीन दिवसीय मत्स्य पालन प्रशिक्षण शिविर रविवार को संपन्न हो गया। समापन समारोह की अध्यक्षता करते सदर विधायक सुभाष ठाकुर ने की। उन्होंने बताया कि आगामी समय में गोबिंदसागर झील में एंग्लिंग प्रतियोगिताएं करवाई जाएंगी। मेगा वाटर इक्योरियम इस जिला में स्थापित करने के लिए उच्च स्तर पर प्रदेश सरकार से बात की जाएगी। विभाग को भी निर्देश दिए कि अधिक से अधिक युवाओ को मत्स्य पालन व्यवसाय के लिए प्रेरित कर उन्हें आधुनिक व वैज्ञानिक तरीके से प्रशिक्षित करें। जिला में बड़े-बड़े जलाशय है, जिनके माध्यम से टूरि•ाम की सम्भावनाएं तलाशी जाएंगी। इससे पूर्व निदेशक एंव प्रारक्षी मत्स्य सतपाल मेहता ने मछुआरों को विभाग द्वारा चलाई जा रही विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारियां दी। मुख्यातिथि ने 50 मछुआरों को प्रमाण पत्र के साथ नौ सौ रुपये प्रति मछुआरा मानदेय दिया। इस अवसर पर जिला भाजपा प्रवक्ता विनोद ठाकुर, स्थानीय प्रधान प्यारे लाल, संजीव डोगरा, खजाना राम, सहायक निदेशक मत्स्य श्याम लाल, मुख्य मत्स्य अधिकारी जगत पाल, मुनीर अख्तर, तिलक राज व अनिल कुमार उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran