बिलासपुर, जेएनएन। बिलासपुर में तमाम सुरक्षा प्रबंधों को धत्ता बताते हुए एक अनजान महिला नर्स की वर्दी में आधी रात को जिला अस्पताल में घुस गई। अपने किसी रिश्तेदार से मिलने की बात कहकर भीतर चली गई, इस महिला की ओर से बताए गए नाम पते के मुताबिक जब अस्पताल में कोई नहीं मिला तो उस पर संदेह हुआ। बात सुरक्षा कर्मियों तक पहुंची। सुरक्षा कर्मियों ने इस महिला की ओर से खुद को अस्प्ताल का स्टाफ बताए जाने के सवाल पर जब डयूटी पर मौजूद नर्सों से पूछा तो उन्होंने भी उसे पहचानने से इंकार कर दिया।

इस पर पुलिस को फोन कर सूचित किया गया। लेकिन इससे पहले करीब तीन घंटे तक इस महिला के इस तरह से भीतर प्रवेश करने के पीछे किसी बदनीयत का संदेह होने पर उसे अस्पताल प्रशासन व सुरक्षा कर्मियों व तीमारदारों ने घेरकर रखा। लोगों को शक था कि यह किसी बदनीयत से अस्पताल में घुसी है और संभवतय यह कोई बच्चा चुराने का मकसद हो सकता है। सूचना के काफी देर बाद पहुंची पुलिस ने महिला को हिरासत में ले लिया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भागमल ठाकुर ने इस मामले में सिटी पुलिस चौकी की ओर से की गई कार्रवाई के बाद महिला थाना को पूछताछ करने के निर्देश दिए हैं।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि इस महिला से थाने में की गई पूछताछ के बाद उसने बताया कि वह घुमारवीं के एक निजी अस्पताल में तैनात है और वर्दी पहनकर ही अंदर आ गई थी। वह अपनी ननद को देखने के लिए आई थी। उसके घर दधोकलां इलाके में बताए गए हैं। लेकिन पुलिस अभी तक उससे पूछताछ कर रही है, क्योंकि उसकी ओर से जिस ननद के अस्पताल में दाखिल होने की बात कही गई थी वह वहां नहीं थी।

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप