संवाद सहयोगी, स्वारघाट : निजी बस ऑपरेटरों की हड़ताल का असर स्वारघाट में दूसरे दिन भी देखने को मिला। बसें न चलने से नौकरीपेशा व स्कूल, कॉलेज जाने वाले विद्यार्थियों को परेशान हुई। उपमंडल स्वारघाट के ग्रामीण क्षेत्रो में अधिकतर रूट निजी बसों के हैं। ग्रामीण क्षेत्र को लोगों की इसलिए भी समस्या ज्यादा है क्योंकि एचआरटीसी की बसों की सुविधा अधिकांश क्षेत्रों में नही है। निजी बस ऑपरेटरों के हड़ताल पर चले जाने से क्षेत्र के लोगों को अधिक परेशानी हो रही है। बता दें कि अधिकतर निजी बस रूट ग्रामीण क्षेत्रों में है, जहां पर एचआरटीसी के एक या दो ही रूट हैं। ऐसे में ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को भारी परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं।

Posted By: Jagran