संवाद सहयोगी, नयनादेवी : राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने शुक्रवार को मां नयनादेवी का आशीर्वाद लिया। उनके साथ डीसी राजेश्वर ठाकुर, एसडीएम सुभाष गौतम व एसपी साक्षी वर्मा सहित कई अधिकारी उपस्थित रहे। राज्यपाल को हिमाचली बैंड बाजों के साथ मंदिर तक लाया गया। पुजारी अभिषेक गौतम ने पूजा करवाई।

उन्होंने कहा कि राज्यपाल बनने के बाद वह पहली बार यहां दर्शन करने आए हैं। उन्होंने यहां के इतिहास के बारे में जाना। उनका पहला मिशन हिमाचल प्रदेश में स्वच्छता बनाए रखना है। नयनादेवी में दिव्यांग तथा बूढ़ों के लिए सुविधाजनक रास्ता बनाया जाए। एक छोटा रैंप बनाकर रास्ते को आसान बनाएं। उन्होंने अधिकारियों से हेलीपैड के बारे में पूछा तो डीसी ने कहा कि इसका प्रोसेस जारी है। राज्यपाल ने कहा कि उनका प्रयास रहेगा कि किसानों को उनकी मेहनत का पूरा हक मिले। हिमाचल व तेलंगाना में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं। वह तेलंगाना व हिमाचल सरकार के साथ मिलकर हैदराबाद में एक हिमाचल पर्यटन केंद्र स्थापित करेंगे। इस अवसर पर उनकी पत्नी व पारिवारिक सदस्य भी साथ रहे।

----------------------

..महिला सफाई कर्मचारी से पूछा, 'कितनी पगार मिलती है'

जब राज्यपाल वापस जा रहे थे तो एक महिला सफाई कर्मचारी से बात करने लगे तथा उसकी पगार के बारे में पूछा। महिला कुछ नहीं बता पाई। साथ में सुलभ इंटरनेशनल के एक अधिकारी ने राज्यपाल को बताया कि उन्हें 7500 रुपये मिलते है तथा फंड भी कटता है। राज्यपाल ने कहा कि बहुत कम पगार है। इन्हें लगभग 400 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से मिलना चाहिए। राज्यपाल ने महिला सफाई कर्मचारी के साथ हाथ भी मिलाया। सभी सफाई कर्मचारियों ने राज्यपाल का अभिवादन किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप