संवाद सहयोगी, स्वारघाट : फोरलेन के निर्माण के लिए दोबारा से अनुबंधित कंपनी की ओर से चलाए जा रहे काम की जगहों पर बुधवार शाम के समय पंजाब नंबर की कारों में सवार होकर आए लोगों ने धावा बोल दिया। इस दौरान उपद्रव मचाते हुए इन लोगों ने मौके पर काम कर रहे इंजीनियरों व वर्करों के साथ मारपीट की तथा एक वर्कर के हाथ से पैमाइश का उपकरण को छीनकर इसे तोड़ दिया। इस दौरान काफी देर तक मौके पर माहौल तनावपूर्ण हो गया। मौके पर से साइट पर मौजूद कंपनी के लोगों ने स्वारघाट पुलिस थाना में फोन किया।

पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले ही हमलावर गाड़ियों में सवार होकर फरार होने में कामयाब हो गए। पुलिस ने कंपनी के कारिदों के बयान पर एफआइआर दर्ज कर ली है। साथ ही उपायुक्त राजेश्वर गोयल के निर्देश पर एसपी साक्षी वर्मा ने तुरंत मौके पर फोरलेन के काम को जारी रखने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बल की तैनाती कर दी है। मौके पर ऐसे लोगों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई के लिए भी हथियारबंद त्वरित कार्रवाई दल भी तैनात किए गए हैं। ऐसे में अब फोरलेन निर्माण को पुलिस सुरक्षा में शुरू कर दिया गया है।

इधर, एनएचएआइ के स्टेट हेड जीएस सांगा ने इस मामले में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, जिला प्रशासन व पुलिस का आभार जताया है। उन्होंने कहा कि कंपनी सुरक्षित माहौल में काम करेगी।

डीएसपी नयनादेवी संजय शर्मा ने बताया कि कैंची मोड़ के आसपास के क्षेत्रों में स्थित टोल प्लाजा के पास सीगल नामक कंपनी की ओर से फोरलेन का काम किया जा रहा है। इनके यहां काम करने वाले एक कर्मचारी हरप्रीत सिंह ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि वह अपने साथियों सहित मौके पर काम कर रहे थे कि इस बीच पंजाब नंबर की गाड़ियों में सवार कुछ लोग आए और काम बंद करने के लिए कहते हुए उनके साथ मारपीट शुरू कर दी तथा उपद्रव मचाना शुरू कर दिया। इस दौरान पैमाइश करने वाले उपकरणों को भी पटककर तोड़ दिया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस