जागरण संवाददाता, बिलासपुर : प्रदेशभर में लोक निर्माण विभाग के रेस्ट हाउसों व सर्किट हाउसों में तैनात कुकों, चौकीदारों व चपरासी तक को मेहमाननवाजी सिखाई जाएगी। ऐसा इसलिए किया गया है ताकि रेस्ट हाउसों व सर्किट हाउसों में ठहरने वाले अधिकारियों व पर्यटकों की शिकायतें न आएं। इसके लिए सरकार ने प्रदेशभर में संचालित हिमाचल पर्यटन निगम के होटलों में इन्हें एक सप्ताह का प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया है। सभी जिलों में अधीक्षण अभियंताओं के माध्यम से इन्हें प्रशिक्षण पर भेजने की तैयारी हो गई है। यह जानकारी लोक निर्माण विभाग बिलासपुर के अधीक्षण अभियंता अजय गुप्ता ने दी।

उन्होंने बताया प्रदेशभर में लोक निर्माण विभाग के रेस्ट हाउस व सर्किट हाउस सबसे अधिक हैं। सर्किट हाउसों में रात को चौकीदार पहरेदारी करते हैं और कुक अधिकारियों, पर्यटकों व लोगों के लिए खाने आदि का प्रबंध करते हैं। विभाग के पास कई वर्षों से शिकायतें आ रही थीं कि रेस्ट हाउसों में सही तरह से खाना परोसा नहीं जाता है और कुकों का व्यवहार भी सही नहीं होता है। इस कारण पर्यटक सरकारी रेस्ट हाउसों में ठहरने से कतराते हैं। इस कारण सरकार ने सैकड़ों कर्मचारियों को शिमला, हमीरपुर व अन्य जिलों में स्थित पर्यटन निगम के होटलों में मेहमानबाजी का प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया है। बिलासपुर जिले से 10 कर्मचारी प्रशिक्षण के लिए भेजे जा रहे हैं। अन्य जिलों से भी कर्मचारियों की सूची तैयार कर इन्हें प्रशिक्षण दिया जाएगा। करीब एक सप्ताह के प्रशिक्षण के बाद विभाग को भरोसा है कि उक्त कर्मचारी रेस्ट हाउसों व सर्किट हाउसों में सही तरीके से मेहमाननवाजी करेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस