संवाद सहयोगी, स्वारघाट : नयनादेवी विधानसभा क्षेत्र के तहत श्रीनयनादेवी नगर पालिका कार्यालय के सामने पुलिस को ईटों के नीचे एक लिफाफे में चरस मिली है। इस चरस को किसने छिपाया था, इसका पता नहीं चल पाया है। कयास लगाए जा रहे हैं कि नयनादेवी मंदिर में माथा टेकने आए किसी श्रद्धालु या नशे के तस्कर ने इसे यहां पर छिपा रखा था। ईटों के ढेर में छिपाई गई चरस करीब 16 ग्राम है। शनिवार को पुलिस टीम श्रीनयना देवी माता मंदिर संपर्क मार्ग पर गस्त पर थी। टीम को नगर पालिका कार्यालय के सामने लगाए गए ईंटों के ढेर में एक बंद लिफाफे में कोई चीज छुपाने की भनक लगी। पुलिस कर्मियों ने ईंटों के ढेर को पलटा तो उसके नीचे बंद लिफाफे में 16 ग्राम चरस मिली। पुलिस थाना प्रभारी कोट कुलदीप कुमार ने बताया कि यह बंद लिफाफा किसी श्रद्धालु का या दुकानदार का भी हो सकता है। अब धार्मिक स्थानों को नशे के सौदागरों ने अपना अड्डा बनाना शरू कर दिया है। उन्होंने बताया कि नशे का कारोबार करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप