संवाद सहयोगी, घुमारवीं : पर्यावरण संरक्षण एवं पर्यावरण को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए महिलाओं को कपड़े के बैग बनाने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिससे न केवल पर्यावरण संरक्षण को बल मिलेगा बल्कि महिलाओं की आमदनी भी होगी। यह निर्णय उजाला दिव्यांग एवं अनाथालय ट्रस्ट के मुख्य कार्यालय में आयोजित बैठक में लिया गया। बैठक की अध्यक्षता ट्रस्ट के अध्यक्ष विनोद भारद्वाज ने की। बैठक में ट्रस्ट के सभी सदस्य उपस्थित रहे। बैठक में ट्रस्ट द्वारा पर्यावरण संरक्षण व पर्यावरण को प्लास्टिक मुक्त बनाने पर विचार किया गया। बैठक में निर्णय लिया गया कि ट्रस्ट महिलाओं को कपड़े के थैले बनाने का प्रशिक्षण देगा। लोगों को प्लास्टिक की अपेक्षा कपड़े के बने बैगों का प्रयोग करने के लिए जागरूक किया जाएगा ताकि सिगल यू•ा प्लास्टिक पर रोक लग सके। लोगों को अपने पारंपरिक तरीके के अनुसार कपड़े के बने बैगों का प्रयोग करने के लिए जागरूक किया जाएगा। इस मौके पर ट्रस्ट के अध्यक्ष विनोद भारद्वाज व मुख्य सलाहकार प्रवीण ठाकुर ने स्टेट प्रोग्राम कॉर्डिनेटर दिव्या भारती को कार्यभार सौंपा। जिला मंडी की स्किल कोऑर्डिनेटर कंचन को कार्यभार सौंपा गया। इस मौके पर मंडी से विशेष रूप से मनोरमा सुनैना और मनीषा विशेष रूप से उपस्थित रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस