बिलासपुर, जेएनएन। छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में स्थित आइटीबीपी कैंप में बुधवार सुबह हुई गोलीबारी में बिलासपुर के जवान की भी मौत हो गई। बताया जा रहा है जवानों के बीच आपसी विवाद हुआ, इसके बाद एक जवान मसौदुल रहमान ने अंधाधुंध गोलियां बरसा दीं, जिसमें पांच जवानों की मौत हो गई व बाद में उसने खुद को भी गाेली मार ली। इस घटना में महेंद्र सिंह निवासी संदियार डाकघर छट बरठीं तहसील घुमारवीं जिला बिलासपुर हिमाचल प्रदेश की भी जान चली गई।

महेंद्र सिंह की उम्र करीब 35 साल थी व उनके दो बेटे हैं, एक की उम्र तीन और दूसरे की पांच साल है। महेंद्र सिंह की करीब दस साल पहले शादी हुई थी। उनके पिता कर्म सिंह भी आइटीबीपी से ही सेवानिवृत्‍त हुए हैं।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस