संवाद सहयोगी, बिलासपुर : निहाल सेक्टर में स्थित सरस्वती विद्या मंदिर में संस्कृत सप्ताह का शुभारंभ किया गया। स्कूल की प्रधानाचार्या पूनम ने बतौर मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की। मुख्यातिथि ने कहा कि संस्कृत सभी भाषाओं की जननी है। ऐसे में बच्चों को संस्कृत भाषा का बोध होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि संस्कृत भाषा के उच्चारण से शब्दों पर पकड़ बनती है। बोलने के तरीके में सुधार होता है। उन्होंने छात्राओं का आह्वान किया कि वे अपनी दिनचर्या में बोलचाल में संस्कृत भाषा का प्रयोग करें ताकि इस भाषा का सहजता से प्रचार प्रसार हो सके। यह सप्ताह 12 से 18 अगस्त तक चलेगा। इस दौरान संस्कृत प्रदर्शनी लगाई गई। जिसमें विभिन्न वस्तुओं को संस्कृत के नाम उच्चारण के बारे में विस्तार से बताया गया। इस अवसर पर संस्कृताचार्य अमरी, विमला, अंजना, कोमल व कल्पना मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप